सपा में शामिल हुआ हिंसा का मास्टरमाइंड मुहर्रम पप्पू, सिख समाज में आक्रोश

लखनऊ: सहारनपुर दंगे का मास्टरमाइंड बताया जाने वाला मोहर्रम अली पप्पू ने समाजवादी पार्टी (सपा) की सदस्यता ले ली है, जिसके बाद सिख समाज में आक्रोश देखा जा रहा है। मोहर्रम अली पप्पू की एक फोटो भी वायरल हो रही है, जिसमें वो सपा नेताओं के साथ लाल टोपी पहने हुए नज़र आ रहा है। दरअसल, 2014 में सहारनपुर में एक गुरुद्वारा में हिंसा भड़की थी, जिसका इल्जाम मुस्लिम भीड़ पर लगा था। अब सिख समाज के लोगों ने सोशल मीडिया के माध्यम से इसके प्रति विरोध जताया है।

वायरल तस्वीर में समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, मुहर्रम पप्पू को लाल टोपी पहनाते हुए नज़र आ रहे हैं। साथ ही इस तस्वीर में सहारनपुर से सपा के मौजूदा MLA संजय गर्ग खड़े हुए हैं। बताया जा रहा है कि ये तस्वीर कुछ दिन पुरानी है। बताया जा रहा है कि ये तस्वीर उस समय की है, जब मोहर्रम अली पप्पू को सपा की सदस्यता दिलाई जा रही थी। मुहर्रम के सपा ज्वाइन करने से न केवल सिख, बल्कि हिन्दू समाज के लोग भी गुस्से में हैं। बता दें कि 2014 में सहारनपुर गुरुद्वारा रोड पर गुरुद्वारे की जमीन पर लेंटर डालने को लेकर ये विवाद हुआ था।

इस हिंसा में सैकड़ों दुकानों को आग लगा दी गई थी। कई लोग जख्मी हुए थे। पुलिस पर भी फायरिंग की गई थी। इसमें कई पुलिसकर्मी जख्मी हो गए थे। उस वक़्त प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार थी। कई स्थानीय लोगों के जख्मी होने के बाद सहारनपुर में कई दिनों तक कर्फ्यू लागू करने की नौबत भी आ गई थी। हालात काबू से बाहर हो गए थे। पूर्व पार्षद मोहर्रम अली पप्पू पर भी पुलिस ने केस दर्ज किया था। मुहर्रम पप्पू पर उस वक़्त 87 केस दर्ज थे। पप्पू को डेढ़ साल की जेल भी हुई थी। इसके साथ ही  उस पर ‘राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA)’ के तहत कार्रवाई की गई थी। फ़िलहाल पप्पू जमानत पर बाहर है।  

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

'लड़की हैं तो क्या, टिकट दे दें ..', लड़की हूँ लड़ सकती हूँ अभियान पर बोलीं कांग्रेस नेता शहला अहरारी

चरणजीत चन्नी ही होंगे कांग्रेस के CM फेस, जानिए सोनू सूद ने कैसे दिए संकेत, Video

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -