वेस्टइंडीज से भारत आते ही अदालत में समर्पण करेंगे शमी

कोलकाताः घरेलू हिंसा के मामले में फंसे टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी वेस्टइंडीज से लौटते ही यहां अदालत में समर्पण कर देंगे। भारत का वेस्टइंडीज दौरा सोमवार को खत्म हो गया और टीम इंडिया दो दिनों में स्वदेश लौट आएगी। हालांकि शमी को सरेंडर करने के लिए 15 दिन का वक्त दिया गया है। शमी पर उनकी पत्नी हसीन जहां ने वर्ष 2018 में कई गंभीर आरोप लगाए थे और उन पर घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया था। इस मामले में मोहम्मद शमी और उनके भाई के खिलाफ आईसीपी की धारा 498A के तहत केस दर्ज किया गया था।

इसी केस की वजह से कोलकाता की अदालत ने शमी को अब सरेंडर करने को कहा है। इस मामले पर हसीन जहां का कहना है कि मैंने उन पर जो भी आरोप लगाए थे वो सही साबित हुए। वो मेरी जिंदगी में खुलेआम गंदगी फैला रहा था। हसीन जहां ने शमी पर दूसरी महिलाओं के साथ अवैध संबंध, रेप व घरेलू हिंसा जैसे गंभीर आरोप लगाए थे।

हसीन जहां का कहना है कि दूसरी महिलाओं के साथ अवैध संबंध की वजह से मो. शमी उनके साथ मारपीट करते थे साथ ही जान से मारने की धमकी भी देते थे। हसीन ने शमी पर फिक्सरों से संबंध होने के आरोप भी लगाए थे जिसके बाद बीसीसीआइ ने शमी का सालाना अनुबंध रद कर दिया था। पर बोर्ड की तरफ से जांच करवाए जाने के बाद वो बेदाग साबित हुए और फिर से शमी को अनुबंध मिल गया। बोर्ड ने कहा कि वह अभी जल्दबाजी में कोई निर्णय नहीं लेगा।

इस विकेटकीपर ने तोड़ा धोनी का रिकार्ड

विजय हजारे ट्रॉफी में खेल सकते हैं विराट कोहली

टेस्ट सीरीज में केवल इस खिलाड़ी ने वेस्टइंडीज की ओर से लगाई हाफ सेंचुरी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -