मोगा बस मामले को लेकर स्थगित हुई राज्यसभा की कार्रवाई

May 05 2015 04:37 PM
मोगा बस मामले को लेकर स्थगित हुई राज्यसभा की कार्रवाई

नई दिल्ली : लोकसभा और राज्यसभा में मामले को लेकर जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस द्वारा मोगा में बस में हुई छेड़छाड़ के एक मामले में जमकर हंगामा मचाया। कांग्रेस द्वारा हंगामे के बीच सदस्यों ने लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव के लिए नोटिस जारी कर दिया गया। इस नोटिस को स्पीकर ने खारिज कर दिया। इसके बाद जब हंगामा अधिक होने लगा तो राज्यसभा की कार्रवाई को स्थगित कर दिया गया।

मिली जानकारी के अनुसार पंजाब के मोगा में आर्बिट एविएशन प्रायवेट लिमिटेड में सफर करने वाली महिला और उसकी लड़की के साथ हुई छेड़छाड़ की घटना को लेकर कांग्रेस ने सदन में सवाल उठाए और उन्होंने पंजाब में बेकाबू हालात को लेकर राष्ट्रपति शासन की मांग की। मामले में कहा गया कि बादल परिवार के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की जाना चाहिए। यही नहीं कांग्रेस सांसदनों ने सदन में चर्चा की मांग भी की।

लोकसभा और राज्य सभा देानों सदनों में इस मसले पर सरकार को घेरने की तैयारी की गई। विपक्ष ने एकजुट होकर सरकार पर हमला बोल दिया और बादल परिवार के विरूद्ध कार्रवाई की मांग की। संसदीय कार्य मंत्री एम. वैंकेया नायडू ने कहा कि मामले में नोटिस पर सहमति के बाद चर्चा की जा सकती है। मामले को लेकर किसी तरह का नोटिस नहीं दिया गया। नोटिस पर सहमति के बाद ही चर्चा की जा सकती है।

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने मामले में पंजाब सरकार के मंत्रियों के बयानों पर चुटकी लेते हुए सवाल उठाएं उल्लेखनीय है कि छेड़छाड़ की इस घटना में लड़की चालक द्वारा बस नहीं रोके जाने पर बस से कूद गई थी वहीं उसकी मां को भी बस से फेंक दिया गया। हादसे में लड़की की मौत हो गई जबकि उसक मां गंभीररूप से घायल हो गई थी।