जर्मनी यात्रा : मोदी बोले, शेर और चील बनेंगे अच्छे साझेदार

Apr 14 2015 12:48 AM
जर्मनी यात्रा : मोदी बोले, शेर और चील बनेंगे अच्छे साझेदार
style="text-align: justify;">बर्लिन : जर्मनी यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से भारत और यूरोपीय संघ के बीच "संतुलित और परस्पर लाभदायक" मुक्त व्यापार समझौता (एफटीए) जल्द संपन्न कराने के लिए सहयोग मांगा है। अपनी जर्मनी यात्रा के समापन के दिन मोदी ने आज कहा, "मैं मानता हूं कि धरती के राजा 'शेर' और आकाश के राजा 'चील' बीच मजबूत साझेदारी होगी।" आपको बता दें कि जर्मनी के "कोट ऑफ आर्म" में एक चील की तस्वीर है, जबकि पीएम मोदी के "मेक इन इंडिया" अभियान का लोगो एक शेर है।

वहीं मोदी ने मर्केल के साथ हुई बैठक के बाद एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, "मैंने चांसलर मर्केल से आग्रह किया है कि भारत और यूरोपीय संघ को वार्ता जल्द फिर शुरू करनी चाहिए और एक संतुलित व पारस्परिक लाभ वाले करार को जल्द से जल्द पूरा करना चाहिए।" प्रधानमंत्री ने कहा, "मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में भारत का विकास और देश के बुनियादी ढांचे का विस्तार हमारे व्यापार के लिए भी लाभकारी होगा। इससे हमारा आयात भी बढ़ेगा। ऐसे में जर्मनी की कंपनियों को निश्चित रूप से इससे फायदा होगा।"

मोदी ने कहा, 'इस परिप्रेक्ष्य में मैं यह भी बताना चाहूंगा कि भारत और यूरोपीय संघ के बीच व्यापक आधार वाले व्यापार और निवेश करार पर वार्ता पिछले दो साल से रुकी हुई है।' यह वार्ता जून, 2007 में शुरू की गई थी। भारत और 28 सदस्यीय यूरोपीय ब्लॉक के देशों के बीच व्यापक व्यापर एवं निवेश करार (बीटीआईए) पर बातचीत में कई बार अड़चन आई है, क्योंकि कई महत्वपूर्ण मसलों पर दोनों के बीच मतभेद हैं।