PM मोदी को आजम खान ने करार दिया देश का नया संत

रामपुर। उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री और सपा नेता आजम खां ने दादरी की घटना को लेकर तंज कसते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को देश का नया संत करार दिया है, आजम ने आग्रह किया है कि अगर नरेन्द्र मोदी गुलाबी क्रांति के जरिये मुसलमानों का कत्ल कराना चाहते हैं तो हम उनकी निंदा करते हैं, देश में मांस के नाम पर हो रही राजनीति बंद होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मांस के नाम पर मंदिर-मस्जिद का टकराव खत्म करने की पहल मोदी को करनी चाहिए। आजम ने पीएम मोदी को नया संत करार देते हुए कहा कि मोदी जी आगामी संसदीय सत्र में प्रतिबन्धित पशुओं को काटने रोक लगाने के लिए कानून बनाएं और कटान व प्रतिबन्धित मांस खाने वालों को सख्त सजा का प्रावधान करें।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार की ओर से इस बात पर भी श्वेत पत्र आना चाहिए के देश में गोश्त काटने और निर्यात करने के ज्यादातर कारखाने किसके हैं। गांधी जयंती के मौके पर रामपुर में लोगों के बीच संबोधित करते हुए आजम ने कहा कि पीएम मोदी देश के नए संत हैं। अब प्रधानमंत्री को पशुओं की कटान रोकने के लिए कानून बनाने की पहल करनी होगी। दादरी इलाके के बिसारा गांव में गोमांस रखने की अफवाह पर मोहम्मद अखलाक नामक एक शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दिए जाने की घटना को लेकर तंज कसते हुए । 

उन्होंने कहा कि देश में मांस के नाम पर हो रही राजनीति अब बंद होनी चाहिए। उन्होंने सवाल उठाया कि देश या प्रदेश में मांस काटने तथा मांस निर्यात करने के सबसे अधिक कारखाने किसके हैं? और आरोप लगाया कि अब मोदी गुलाबी क्रांति के नाम पर मुस्लिमों की हत्या करा रहे हैं। आजम ने कहा कि देश तथा प्रदेश में 90 प्रतिशत वधशालाएं या तो RSS की हैं या फिर भाजपा से जुड़े लोगों की है।

आजम ने कहा कि पीएम मोदी संसद का विशेष सत्र बुलाकर कानून पास कराएं कि पूरे देश में कहीं भी प्रतिबंधित पशुओं का क़त्ल नहीं होगा। गोश्त काटने वाले, बेचने वाले और खाने वाले पर कड़ी कार्रवाई होगी। गोश्त का निर्यात भी बंद होना चाहिए। आजम ने कहा कि मोदी सरकार चाहे तो सभी तरह के जानवरों के गोश्त पर प्रतिबंध लगा दे। इस बारे में भारत सरकार को एक श्वेतपत्र जारी करना चाहिए।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -