67 के हुए 'बॉलीवुड के दा', ऐसा रहा नक्सलवादी से लेकर सुपरस्टार तक का सफर

67 के हुए 'बॉलीवुड के दा', ऐसा रहा नक्सलवादी से लेकर सुपरस्टार तक का सफर

हिंदी सिनेमा के दिग्गज कलाकार मिथुन चक्रवर्ती के लिए आज का दिन बेहद ख़ास है. बॉलीवुड में 'मिथुन दा' के नाम से ख़ास पहचान रखने वाले अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती का आज जन्मदिन है. आज ही के दिन साल 1952 में उनका जन्म बांग्लादेश में हुआ था. मिथुन द्वारा अभिनय की शुरुआत कला फिल्म मृगया से की गई थी, जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए पहला राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार भी प्राप्त हुआ था. आइए आज जानते हैं मिथुन दा के 67वें जन्मदिन पर उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातों के बारे में...

 

जिंदगी के लिए पॉजिटिव रवैया 

कहते हैं कि 'ऐल्टिट्यूड' हो तो माउंट एवरेस्ट जैसा, और ऐटिट्यूड हो तो मिथुन दा जैसा'. एक डाकू वाल्मीकि बन चुका था और एक नक्सलवादी गौरांग था जो सुपरस्टार मिथुन दा बना. जी हां, फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले मिथुन दा एक नक्सलवादी हुआ करते थे. लेकिन अपने भाई की मौत के बाद उन्होंने अपने जीवन को एक सही दिशा दिखाई. 

अब बात आती है रेसलिंग की. कोई नहीं जानता था कि 1967 में 'वेस्ट बंगाल स्टेट रेसलिंग चैंपियनशिप' जीतने वाला शख्स एक दिन बॉलीवुड का डिस्को किंग और सुपरस्टार बन जाएगा. उसके बाद तो समय का पहिया कुछ इस तरह से घूमा कि मिथुन दा को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला. 

एक अच्छे अभिनेता, एक अच्छे इंसान

बंगाल की राजधानी कोलकाता से उभरे इस सुपरस्टार ने 1976 से फिल्मों में आना शुरू किया था और पिछले करीब साढ़े चार दशकों में उन्होंने कुल मिलाकर बॉलीवुड की 350 से अधिक फिल्मों में अभिनय कर डाला. बांग्ला, उड़िया और भोजपुरी में भी बहुत सारी फिल्में उनके नाम है. म्यूजिकल फिल्म डिस्को डांसर (1982) से तो उनकी इमेज ही बदल गई थी और उसके बाद दूसरी म्यूजिकल फिल्मों, कसम पैदा करनेवाले की (1984) और डांस डांस (1987) ने उन्हें एक बेहतरीन डांसर के रूप में पहचान दिला दी. 

 

'आर्टिकल 15' : टाइटल ट्रैक में छा गए आयुष्मान, फैंस बोले- कुछ नया आया, मजा आया

No Entry के सीक्वल के लिए मिली एक्ट्रेस, जानें कौन है ये...

इस साउथ सुपरस्टार की हिट फिल्म के हिंदी रीमेक में नज़र आएंगे जॉन अब्राहम

आते ही छा गया DJ स्नैक का नया गाना, इन दो कलाकारों ने भी लगा दी आग