तहलका मचा रहे हैं मिर्जापुर 2 के यह डायलॉग्स

वेब सीरीज मिर्जापुर 2 को रिलीज किया जा चुका है। यह वेब सीरीज अमेजन प्राइम पर बीते 22 अक्टूबर को रिलीज कर दी गई है और इसके रिलीज होते ही लोगों ने इसे देख भी डाला है। वैसे आपको याद ही होगा कि पिछले सीजन को काफी जबरदस्त पसंद किया गया था और ठीक उसी की तरह इस सीजन को भी दर्शकों से अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। इस सीरीज के पहले सीजन में किरदारों के डायलॉग्स काफी मशहूर हुए थे, जो आज भी लोगों को याद हैं और इस पर मीम्स बनाए जाते हैं। अब ठीक उसी तरह दूसरे सीजन में ऐसे कई डायलॉग्स हैं जो फैन्स को काफी पसंद आ रहे हैं। जी दरअसल 'मिर्जापुर 2' के इन डायलॉग्स की वजह से सीरीज का रूतबा काफी बढ़ा हुआ नजर आ रहा है। आइए जानते हैं मिर्ज़ापुर 2 के कुछ डायलॉग्स।

-कुछ लोग बाहूबली पैदा होते हैं और कुछ को बनाना पड़ता है, इनको बाहुबली बनाएंगे।

-औरत चाहे चंबल की हो या पूर्वांचल की, जब गन उठाई है तो इसका मतलब है कि दिक्कत में है।

-जब कुर्बानी देने का टाइम आए तो सिपाही की दी जाती है। राजा और राजकुमार जिंदा रहते हैं गद्दी पर बैठने के लिए।

-शादीशुदा मर्द को अपनी स्त्री से भय न हो तो इसका मतलब है कि शादी में कुछ गड़बड़ है।

-शर्मा से क्या शर्माना, दिस इज ए कॉमन डिजीज।

-दिखाते समय कॉन्फिडेंस हो तो पब्लिक पूछती नहीं कि फाइल में क्या है।

-बातें ज्यादा हुई नहीं, बस आहट लेकर आ गए।

आप सभी को हम यह भी बता दें कि पिछले सीजन की तरह इस सीजन में भी पंकज त्रिपाठी, दिव्येंदु शर्मा, अली फजल, रसीका दुग्गल, श्वेता त्रिपाठी और हर्षिता गौर मुख्य भूमिका में नजर आ रहे हैं। वहीं इस बार नए सीजन में कुछ नए किरदारों को भी जोड़ा गया है। वह नए किरदार विजय वर्मा, ईशा तलवार और प्रियांशु पैनयुली निभाते दिखाई दे रहे हैं। वैसे हम यह भी बता दें कि मिर्जापुर 2 का निर्देशन करण अंशुमन और पुनीत कृष्णा ने किया है।

बिहार कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम पर इनकम टैक्स ने मारा छापा, मिले लाखों रुपए!

आज है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली रैली, गठबंधन के लिए मांगेंगे आशीर्वाद

अब शिवराज सिंह चौहान ने किया कोरोना वैक्सीन फ्री में देने का वादा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -