अल्पसंख्यक मंत्री नकवी ने हज सब्सिडी को बताया छल, पीएम मोदी को लेकर कही ये बात

अल्पसंख्यक मंत्री नकवी ने हज सब्सिडी को बताया छल, पीएम मोदी को लेकर कही ये बात

नई दिल्ली: मोदी सरकार 2.0 में अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंगलवार को कहा है कि मोदी सरकार ने हज सब्सिडी के ‘छल’ को ‘ईमानदारी के बल’ से समाप्त किया है. हज कोर्डिनेटर, हज असिस्टेंट आदि के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ करने के दौरान नकवी ने कहा है कि हमारी ईमानदार-पारदर्शी व्यवस्था का परिणाम है कि सब्सिडी खत्म होने के बाद भी हज यात्रियों पर अनावश्यक बोझ नहीं पड़ने पाया और देश के इतिहास में सबसे अधिक भारतीय मुसलमान इस साल हज यात्रा पर जाएंगे. 

उन्होंने कहा है कि हज यात्रियों की सुरक्षा एवं उनकी बेहतर सुविधा सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार ने असरदार कदम उठाए हैं और इस विषय पर कोई कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी. मंत्री ने कहा है कि हज 2019 पर जाने वाले हज यात्रियों की मदद के लिए 620 हज कोर्डिनेटर, असिस्टेंट हज अफसर, हज असिस्टेंट, डॉक्टर, पारा-मेडिक आदि की सऊदी अरब में नियुक्ति की गई है, जिसमे बड़ी तादाद में महिलाएं शामिल हैं.

नकवी ने कहा है कि देश भर के 21 एयरपोर्ट्स से 500 से अधिक उड़ानों के माध्यम से रिकॉर्ड दो लाख भारतीय मुसलमान बगैर किसी सब्सिडी के इस साल हज पर जायेंगे. इन हज यात्रियों में एक लाख 40 हजार हज यात्री भारतीय हज कमेटी और 60 हजार ‘हज यात्री हज ग्रुप ऑर्गनाइजर’ (एचजीओ) के माध्यम से हज पर जाएंगे. हज समूह के आयोजकों को भी 10 हजार हज यात्रियों को हज कमिटी ऑफ इंडिया द्वारा निर्धारित किए गए पैकेज पर ही ले जाना होगा.

राम रहीम की पैरोल पर कुमार विश्वास का ट्वीट, कहा- वो खेती नहीं करेगा तो नेता फसल कैसे काटेंगे ?

आपातकाल की वर्षगांठ पर बोलीं ममता, कहा- पांच साल से देश में 'सुपर इमरजेंसी'

'गहलोत और पायलट मेरी मौत के जिम्मेदार', ये लिखकर अन्नदाता ने खाया जहर