+

सुहागरात के समय लड़की ने पहली बार सुना अपने पति का नाम और फिर...

सुहागरात के समय लड़की ने पहली बार सुना अपने पति का नाम और फिर...

लखनऊ: पिता और चाचा ने झूठ बोलकर एक 16 वर्ष की नाबालिग लड़की की शादी एक ऐसे व्यक्तिके साथ शादी करा दी, ज‍िसकी शक्ल तक लड़की ने नहीं देखी थी। सुहागरात पर उसने पहली बार अपने पत‍ि का नाम सुना। क‍िसी तरह उसने पुल‍िस को इस बारे में सूचित किया, तब जाकर नाबालिग के साथ शादी कर जबरदस्ती करने वाले को पुल‍िस ने ग‍िरफ्तार किया।

पत्नी कहती थी दर्द हो रहा है, फिर भी पति बनाता रहता था अप्राकृतिक यौन सम्बन्ध और फिर....

पुलिस के अनुसार,  पीड़ित सीमा (बदला हुआ नाम) उत्तर प्रदेश की रहने वाली है और 8वीं तक पढ़ी हुई है। उसके 2 भाई व 4 बहने हैं। लगभग एक माह पहले सीमा अपनी बड़ी बहन के घर गई थी। 7 मार्च को सीमा के पिता और चाचा भी वहां पहुंचे। लड़की को बताया गया कि उसके चाचा के बेटे की शादी है। ये कहकर दोनों सीमा को वापस गांव ले आए।  रास्ते में सीमा को बताया गया कि 8 मार्च को चचेरे भाई की नहीं बल्कि उसकी खुद की शादी होनी है। यह बात सुनकर सीमा के होश उड़ गए। इसके बाद एक मंदिर में सीमा की जबरदस्ती शादी करवा दी गई। उसने न तो दूल्हे की शक्ल देखी थी और न ही उसका नाम सुना था। सीमा ने इस शादी का बहुत विरोध किया, किन्तु परिवार के आगे उसकी एक नहीं चली।  

पत्नी कहती थी दर्द हो रहा है, फिर भी पति बनाता रहता था अप्राकृतिक यौन सम्बन्ध और फिर....

शादी पूरी होने के बाद दूल्हा, सीमा  को अपने भाई के घर गाजियाबाद ले आया। यहीं पहुंचकर पीड़िता को पति का नाम शेरा पता चला ज‍िसकी आयु 38 वर्ष थी। यहां सीमा के साथ उसके पत‍ि ने जबरन संबंध बनाए। 11 मार्च की शाम को आरोपी, नाबालिग पत्नी को वसंत कुंज इलाके स्थित एक फॉर्म हाउस पर ले गया। यहां उसके साथ वापस जबरदस्ती संबंध बनाए। शेरा इसी फॉर्म हाउस पर काम करता था। इसी फार्महाउस से किसी तरह मौका पाकर पीड़िता ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंचकर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने पीड़िता के पिता और चाचा के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

खबरें और भी:-

पाकिस्तान के लिए जासूसी करता था बिजली मिस्त्री, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मानसिक रूप से परेशान होकर, बैंक के बाथरूम में गार्ड ने खुद को मारी गोली

औरंगाबाद : गाड़ी में भारी मात्रा में विस्फोटक ले जा रहे थे युवक, पुलिस ने पकड़ा तो भाग खड़े हुए