दादरी कांड : ओवैसी के बाद अखलाक के घर पहुंचे संस्कृति मंत्री, इलाके में धारा 144

लखनऊ : यूपी के दादरी में गोमांस खाने की अफवाह फैलने के बाद बेरहमी से पीट-पीटकर मार डाले गए अखलाक के परिवारवालों से मिलने AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी के अलावा देश के संस्कृति मंत्री और नोएडा से सांसद महेश शर्मा भी पहुंचे। उन्होंने पुनः इस मामले को हादसा करार दिया। महेश शर्मा ने कहा, कुछ लोग इस घटना पर राजनीति कर रहे हैं। इसे सांप्रदायिक रंग में रंगने का प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने इसे एक दुखद घटना बताया है। 70 साल से इस गांव में मुसलमान रह रहे हैं। अखलाक की मौत एक हादसा है, ये सुनियोजित घटना नहीं है। उधर, शर्मा के गांव का दौरा करने के बाद दादरी इलाके में धारा 144 लगा दी गई। वहीं, यूपी के चीफ सेक्रेटरी आलोक रंजन ने शुक्रवार शाम को कहा कि अगर पीड़ित परिवार चाहेगा, तो इस मामले की CBI जांच कराने को सरकार तैयार है। उन्होंने ये भी कहा कि सभी आरोपियों की पहचान कर उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई के लिए जिला प्रशासन को कहा गया है।

इस बीच, Facebook पर एक चिट्ठी सामने आई है। इसमें एक चिट्ठी का हवाला दिया गया है। दावा किया जा रहा है कि ये चिट्ठी अखलाक के बेटे सरताज ने लिखी है। जिसमें उसने मीडिया से और परेशान न करने को की गुजारिश की है। इसमें लिखा गया है कि जो भी कहना था, परिवार ने सब कुछ कह दिया है। इसमें ये भी लिखा गया है कि अखलाक की 80 साल की मां भी बीमार हो गई हैं।

उधर, अखलाक के घरवालों का हाल जानने पहुंचे ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य की सपा सरकार पर भी हमला बोला। ओवैसी ने कहा, पीएम ने इस हत्या पर कुछ नहीं कहा। अफसोस है कि उन्होंने आशा भोसले के बेटे की मौत पर ट्वीट करके दुख जताया, लेकिन अखलाक की मौत पर चुप रहे। हम तो उम्मीद कर रहे थे कि सबका साथ सबका विकास की बात कहने वाले पीएम इस मुद्दे पर ट्वीट करके जरूर कुछ कहेंगे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -