जानें श्वेत क्रांति के जनक वर्गीज कुरियन के बारे में कुछ खास बातें

Sep 08 2018 09:37 PM
जानें श्वेत क्रांति के जनक वर्गीज कुरियन के बारे में कुछ खास बातें

नई दिल्ली :  देश में श्वेत क्रांति के जनक डॉ. वर्गीज कुरियन की कल  पुण्यथिति है. आइये इस मौक़े पर जानते है उनके बारे में कुछ खास बातें

- कुरियन के योगदानों के सम्मान में उनके जन्मदिन को देश में नैशनल मिल्क डे के रूप में मनाया जाता है.

- कुरियन के बारे में खास बात यह है कि वह दूध को पसंद नहीं करते थे लेकिन दूध उत्पादन के क्षेत्र में एक महान क्रांति के जनक बने. 

- दुनिया भर में गाय के दूध से दुग्ध पाउडर बनाया जाता था लेकिन उन्होंने एक नया प्रयोग किया देश में भैंस के दूध से पहली बार पाउडर बनाने का श्रेय भी कुरियन को ही जाता है. इसके लिए उनको मिल्कमैन ऑफ इंडिया का खिताब दिया गया. 

आज ही नहीं, पौराणिक काल में भी थे समलैंगिक संबंध

- कुरियन ने  1970 में ऑपरेशन फ्लड शुरू किया जिससे भारत में श्वेत क्रांति का आगाज हुआ और भारत दुनिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादक देश बन गया.

- डेयरी प्रॉडक्ट्स के भारत के सबसे बड़े ब्रैंड अमूल की स्थापना और सफलता में उन्होंने अहम भूमिका निभाई.

- दिलचस्प बात यह है कि जाने-माने फिल्मकार श्याम बेनेगल ने मंथन नामक एक फिल्म बनाई जिसकी कहानी डॉ. कुरियन पर आधारित थी.

अगर आप भी है PNB के ग्राहक तो यह खबर जरूर पढ़े

- डॉ. कुरियन को रमन मगसायसाय, पद्मश्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण जैसे पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है. 

- 1965 में उनको मिशिगन यूनिवर्सिटी ने भी मानद डिग्री दी थी.

- डॉ. कुरियन ने 'i too had a dream' नाम की एक किताब  लिखी है जिसमे दुग्ध सहकारी संस्थाओं की स्थापना के बारे में लिखा है.
 

ख़बरें और भी...

मध्यप्रदेश में भारी बारिश से कई गाँव टापू में तब्दील, नदी-नाले उफान पर

Asia Cup 2018: बांग्लादेश की बड़ी मुश्किलें

शाहजहांपुर में कार में लिफ्ट देने के बहाने महिला से बलात्कार

 

 

?