पेशावर आतंकी हमले में 70 छात्रों को गोली मारी, शरीफ ने कहा : कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी

Jan 20 2016 01:09 PM
पेशावर आतंकी हमले में 70 छात्रों को गोली मारी, शरीफ ने कहा : कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के बाचा खान विश्वविद्यालय में हुए आतंकी हमले को लेकर विश्वभर में हलचल मची हुई है। इस हमले में अब तक 23 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 50 लोगों के घायल होने की खबर है। तहरीक-ए-तालिबान ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। खबर है कि विश्वविद्यालय में घुसे सभी 6 आतंकियों की मौत हो चुकी है। विश्वविद्यालय को निशाना बनाने की निंदा की जा रही है। विश्वविद्यालय में आतंकी हमला होने की बात को लेकर भारत ने दुख जताया है। भारत ने इस हमले की निंदा की है। पाकिस्तान में हमले से दहशत फैल गई है।

बदहवास लोग सेना के जवानों, पुलिस और अपने परिचितों के सहारे विश्वविद्यालय परिसर से बाहर निकल रहे हैं। घायलों को चिकित्सालय ले जाया गया है तो दूसरी ओर शवों को एकत्रित कर उनकी पहचान की जा रही है। उल्लेखनीय है कि कई शव क्षत - विक्षत अवस्था में मिले थे। अब इन शवों की शिनाख्त की जा रही है। हमले को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी निंदा की है। नवाज शरीफ ने अपने ट्विट में लिखा है कि बच्चों की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी। प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा यह भी लिखा गया कि आतंकवाद का कोई मजहब नहीं होता।

पाकिस्तान में इस हमले को पेशावर के आर्मी स्कूल में हुए हमले की ही तरह बड़ा हमला माना जा रहा है। हालांकि अभी मृतकों को लेकर किसी तरह की स्पष्ट जानकारी नहीं मिली है लेकिन मौतों का आंकड़ा बहुत ज़्यादा हो सकता है। आतंकियों ने 70 विद्यार्थियों को सिर में ही गोली मार दी है। जिससे लोग दहशत में हैं। घटनास्थल पर हमले के बाद लोग ऐंबुलेंस - ऐंबुलेंस चिल्लाते रहे।

हालांकि पाकिस्तान की सरकार ने स्थिति को संभालने का प्रयास किया है लेकिन घटना के तुरंत बाद घायलों तक मदद मिलने में कुछ समय जरूर लगा। पाकिस्तान में इस हमले को लेकर दहशत बनी हुई है। उल्लेखनीय है कि विश्वविद्यालय परिसर में धमाके भी किए गए।