मीटू कैंपेन: अब ताज होटल की पूर्व कर्मचारी आई सामने, सीईओ पर लगाए यौन शोषण के आरोप

Nov 01 2018 02:20 PM
मीटू कैंपेन: अब ताज होटल की पूर्व कर्मचारी आई सामने, सीईओ पर लगाए यौन शोषण के आरोप

मुंबई: भारत में इस समय मीटू मामला बहुत जोर शोर से चल रहा है और इसमें लगातार ही नित नए मामले उजागर हो रहे हैं। हाल में मुंबई स्थित ताज होटल की पूर्व कर्मचारी ने पूर्व सीईओ पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। यहां बता दें कि भारतीय फिल्म जगत से शुरू हुआ मीटू कैंपेन अब पूरे देश में फैल चुका है और अब इसमें देश की नामी गिरामी हस्तियां घिर गई हैं। जानकारी के अनुसार बता दें कि ताज होटल की पूर्व कार्यकारी सहायक ने तत्कालीन सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर राकेश सरना पर यौन शोषण का आरोप लगाया है।

तनुश्री ने राखी पर ठोका मानहानी का केस मांगे इतने करोड़ रूपए

मीटू में हाल में आए इस नए मामले से देश में खलबली मच गई है। बता दें राकेश सरना ने 2016 इस्तीफा रतन टाटा-सायरस मिस्त्री विवाद के दौरान दिया था। वहीं उन्होने अब इस मामले में अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि इस मुद्दे ने उन्हें बोलने के लिए प्रेरित किया है। यहां बता दें कि इस मामले में जिस कर्मचारी का नाम सामने आया है वह कार्यकारी सहायक अंजली पंडित है। वहीं उन्होने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि नौकरी के दौरान उन्होने टाटा संस के कई बार चक्कर लगाए लेकिन उनके द्वारा कोई भी मदद नहीं की गई थी और फिर उनके पास नौकरी छोड़ने के अलावा और कोई रास्ता नहीं बचा था। उनकी शिकायत के बाद टाटा संस ने एक नई समिति बनाई जहां उनकी सुनवाई होनी थी। उनका कहना है कि दो साल बाद भी उन्हें निष्कर्षों की कोई रिपोर्ट नहीं मिली है।  

मीटू मामले में फंसे सबरीमाला कार्यकर्ता राहुल ईश्वर, लगा यौन शोषण का आरोप


गौरतलब है कि इस समय में देश में मीटू कैंपेन ज्यादा चर्चाओं में चल रहा है और अब ताज होटल की कर्मचारी ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। पीड़िता के अनुसार बताया गया कि वह ताज की पॉश समिति प्रिवेंशन ऑफ सेक्सुअल हैरेसमेंट में शिकायत दर्ज नहीं करवा सकती थी क्योंकि सरना और उसके साथी इसके सदस्य थे। उन्होने कहा कि ताज के बोर्ड सदस्यों, टाटा समूह के कार्यकारी परिषद के सदस्यों और अध्यक्ष के दफ्तर में शिकायत करने पर उन्हें केवल एक ही सलाह दी गई और वो थी ताज ग्रुप से इस्तीफा देना। 


खबरें और भी 

#meetoo अभियान : एम जे अकबर और प्रिया रमानी के मामले में सुनवाई टली

#Metoo : एम जे अकबर की मुश्किलें बढ़ी, प्रिया रमानी के समर्थन में आईं 20 महिला पत्रकार

राहुल जौहरी जांच पैनल में हुआ बदलाव, सभी साक्ष्यों को करना होगा प्रदर्शित