22 से 28 सितंबर तक खतरे में धरती, हो जाएगा जीवन समाप्त

Sep 19 2015 09:35 AM
22 से 28 सितंबर तक खतरे में धरती, हो जाएगा जीवन समाप्त

नई दिल्ली: धरती और किसी उल्कापिंड के बीच होने वाले टकराव की आशंका के चलते वैज्ञानिक जगत को चिंता सताने लगी है। प्रोफेसर रॉबर्ट वॉल्श ने बताया है कि आगामी हफ्ते धरती से एक ऐसे उल्का पिंड की टक्कर हो सकती है जिससे धरती पर जीवन समाप्त हो सकता है। वॉल्श के मुताबिक जो अंजाम डायनासोर का हुआ वही अंजाम इंसानों का भी हो सकता है।

वॉल्श ने बताया की आने वाले 22 से 28 सितंबर के बीच धरती से एक उल्का पिंड टकरा सकता है। उन्होंने बताया की हमारे ग्रह पर कई तरह की मुसबते आने वाली है। इनमें उल्का पिंड का धरती से टकराना, भूकंप, सुनामी आदि शामिल है। हांलाकि नासा ने स्पष्ट किया है कि भविष्य में धरती पर किसी उल्का पिंड के गिरने का अभी तक किसी प्रकार का कोई संकेत नहीं मिला है।

वही नासा के एक प्रवक्ता के अनुसार ऐसे किसी भी क्षुद्रग्रह या धूमकेतु के बारे में जानकारी नहीं है जिसकी धरती से टक्कर होने वाली है। बता दे की नासा लगातार आसमान की हर गतिविधियों पर निगरानी रखता है जो की इस तरह की बात से इनकार कर रहा है। वही दूसरी तरफ कुछ एक्सपर्टों कह रहे है की अगर यह भविष्यवाणी सच हुई तो 22 से 28 सितंबर के बीच धरती पर जीवन नष्ट हो सकता है।