33 शहरों में पारा 46 के पार, राजस्थान में तापमान 50.5 डिग्री

नई दिल्ली : प्रकृति से खिलवाड़ करने की भारी कीमत लोगों को चुकानी पड़ रही है। तपती गर्मी से उतर-पूर्वी राज्य त्रस्त है। बुधवार को दिल्ली का तापमान अपने चरम पर था, जो कि साल का सबसे गर्म दिन रहा। पालम इलाके में तापमान 46.4 डिग्री था जब कि गुजरात के कांडला समेत कई शहरों में पारा 48-49 रहा।

अहमदाबाद में पारा 46.9 रिकॉर्ड किए गए। राजस्थान में तो गर्मी ने सारी सीमाएं लांघ तापमान 50 के पार चला गया। चुरु और झालावाड़ जैसी जगहों का तापमान 49 डिग्री के पार रहा। मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली समेत 8 राज्यों में गर्मी के कारण अलर्ट जारी किया गया है। 33 शहरों में पारा 46 के पार पहुंच चुका है।

वेदर डिपार्टमेंट ने कहा है कि कोशिश कीजिए कि अगले दो दिन सुबह 11 से शाम 4 बजे तक घर से बाहर न निकलें। खासकर मध्यप्रदेश, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, गुजरात, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और दिल्ली में। यहां पारा 47 डिग्री तक पहुंच सकता है।

मौसम केंद्र ने बुधवार को 8 राज्यों के लिए यह वॉर्निंग जारी करते हुए ऑरेंज अलर्ट का एलान कर दिया है। यानी वो स्थिति जब पारा 46 डिग्री पार हो जाता है। तेलंगाना में गर्मी के सितम से अब तक 309 लोगों की मौत हो चुकी है। महाराष्ट्र के अकोला में 15 सालों बाद तापमान 47 के पार पहुंच गया है।

इस बीच मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 3-4 दिनों तक हालात ऐसे ही रहेंगे। मौसम विभाग के मुताबिक राजस्थान से गर्म हवा प्रदेश में प्रवेश कर रही है। तमिलनाडु में आए तूफान से नमी आना बंद हो गई है, इससे तापमान बढ़ रहा है।

स्काइमेट के डायरेक्टर ने बताया कि बीते वर्ष मौनसून 28 जून को आया था। इस साल भी बारिश जून के आखिरी तक ही आएगा। तमिलनाडु में बुधवार को भारी बारिश हुई। 48 घंटे में चेन्नई में रिकॉर्ड बारिश हुई है। इसके कारण कई इलाकों में पानी भर गया है।

ट्रैफिक पर असर पड़ा है। 56 फ्लाइट्स की सर्विस पर इफेक्ट पड़ा है। लोगों को पिछले साल की तरह बाढ़ का डर सता रहा है। क्योंकि वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक, चेन्नई से 70 किमी दूर बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर एरिया बनने से अगले दो दिन में यह साइक्लोन में बदल सकता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -