महिलाओं में मर्दों का डीएनए

लंदन: वैज्ञानिकों द्वारा किये गए एक नए शोध में ये पाया गया है की कई महिलाओं के खून में वाई-क्रोमोसोम जीन सीक्‍वेंस आता है। और इस पर आश्‍चर्य भी जताया जा रहा है क्योकि ये क्रोमोसोम सिर्फ पुरुषों में ही होता है पर सवाल ये है की यह क्रोमोसोम महिलाओं में आता कहां से है? 

शोध के आधार पर बताया गया है की जो भी महिलाएं गर्भवती होती हैं, उनके रक्त में गर्भावस्‍था के बाद से पूरी जिंदगी भ्रूण से मिले सेल मौजूद रहते हैं. चाहे महिला का गर्भपात हो जाए, या गर्भावस्‍था खत्‍म हो जाए उसके बाद भी ये जीन्‍स मां में ही रहते हैं शोध के अनुसार इस स्थति को माइक्रोकेमिरिज्‍म कहा जाता है|

शोध के अनुसार महिलाओं को उनकी गर्भावस्‍था के आधार पर चार भागों में बांटा, अध्‍ययन में पाया गया क‍ि चारों ग्रुप की महिलाओं में पुरुष माइक्रोकेमिरिज्‍म मौजूद था, इस शोध का रिजल्ट यह था की महिलाओं में पुरुषों के माइक्रोकेमिरिज्‍म की संभावित मौजूदगी का कारण गर्भावस्‍था, गर्भपात या शारीरिक संबंध बनाना था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -