मेनका गांधी का विवादित बयान: सभी हिंसा पुरुषों ने पैदा की है

By Harish Parmar
Sep 14 2015 07:48 PM
मेनका गांधी का विवादित बयान: सभी हिंसा पुरुषों ने पैदा की है

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ व तेज तर्रार नेता मेनका गांधी जो की केंद्रीय महिला एवं बाल कल्याण के पद पर कार्यरत है उन्होंने एक विवादित बयान दिया है, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक मेनका ने महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय की फेसबुक पर शुरू की गई पहल '100 वूमेन' पर लोगों के सवालों के जवाब में सोमवार को कहा की लैंगिक संवेदनशीलता जगाने में पुरुषों की भूमिका निर्णायक है, क्योंकि सभी हिंसा पुरुषों की पैदा की हुई है। हमने स्कूलों में 'जेंडर चैंपियन' कार्यक्रम शुरू किया है। इसमें उन लड़कों को इनाम दिया जाएगा जो लड़कियों की मदद करेंगे और उनके प्रति सम्मान दिखाएंगे।

गौरतलब है की जुलाई में सोशल मीडिया साइट्स फेसबुक पर '100 वूमेन' की शुरुआत महिला एवं बाल कल्याण मंत्रालय द्वारा की गई थी. तथा इसका उद्देश्य यह है की भारत की ऐसी 100 महिलाओं की तलाश करना है जिन्होंने अपने कार्य के बल पर अपने समुदायों में प्रभाव छोड़ा है और बदलाव की अलख जगाई है. इस दौरान मेनका से 'लाइव चैट' के दौरान बाल शिक्षा, महिलाओं के साथ अपराध और राजनैतिक मुद्दों पर सवाल पूछे गए. 

मेनका ने कथित रूप से दो नेपाली महिलाओं से राजनयिक द्वारा दुष्कर्म पर भी चिंता जताई व कहा की हमारे मंत्रालय ने मुसीबत में फंसी महिलाओं की मदद के लिए सखी नाम से केंद्रों की स्थापना की है। मेनका गांधी ने दोहराया की भारतीय मिडिया महिलाओं से जुड़े मामलों में दूसरे देशों की तुलना में अधिक संवेदनशील है. '100 वूमेन' के तहत महिलाओं को मंत्रालय के फेसबुक पेज पर नामित किया जाएगा व चुनी गई महिलाओं की मेजबानी राष्ट्रपति 22 जनवरी 2016 को करेंगे.