Netflix के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट पहुंचा मेहुल चौकसी, की ये मांग

नई दिल्ली: नेटफ्लिक्स की आगामी ‘वेब सीरिज बैड ब्वॉय बिलिनायर्स’ के खिलाफ भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी ने बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है। चौकसी के वकील विजय अग्रवाल ने कहा कि वे नहीं चाहते हैं कि डॉक्यूमेंट्री पर रोक लगाई जाए किन्तु वह इस डॉक्यूमेंट्री का एक प्रिव्यू देखना चाहते हैं।

नेटफ्लिक्स की ओर से पेश हुए वरिष्ठ वकील नीरज किशन कौल ने कहा कि डॉक्यूमेंट्री में लगभग 2 मिनट तक PNB घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी के संबंध में फिल्माया गया है, जिसमें मेहुल चौकसी को भी शामिल किया गया है। इस पूरे मामले को अदालत ने शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दिया है। नेटफ्लिक्स द्वारा जारी किए गए पोस्टर में चौकसी के भतीजे और फरार हीरा कारोबारी नीरव मोदी, सुब्रत रॉय (सहारा ग्रुप), दिवालिया हुए किंगफिशर एयरलाइंस के मालिक विजय माल्या, रामलिंगा राजू (सत्यम कम्प्यूटर सर्विसेज के पूर्व चेयरमेन और सीईओ) को दर्शाया गया है। सीरिज को लेकर नेटफ्लिक्स ने कहा कि, “यह इन्वेस्टिगेटिव डॉक्यू सीरिज लालच, फर्जीवाड़े और भ्रष्टाचार को लेकर बनाई गई है।”

आपको बता दें कि चौकसी, नीरव मोदी और उनकी पत्नी अमी मोदी भारत छोड़कर भाग गए हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महुल चौकसी और अन्य लोगों के साथ अमी मोदी और उनके पति नीरव मोदी पर साजिश और धनशोधन के लिए धन शोधन रोकथाम अधिनियम (PMLA) के तहत मामला दर्ज किया है। इसके साथ ही नीरव की पत्नी अमी मोदी के खिलाफ मंगलवार को इंटरपोल ग्लोबल रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया है।

मूडीज ने दी खुशखबरी, भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर जताया ये अनुमान

सेंसेक्स में 100 से अधिक अंकों की बढ़त, निफ़्टी 11500 के पार

राष्ट्रीय शिविर में शामिल नहीं हुईं साइना, पति कश्यप है वजह

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -