धारा 370 हटाने पर भड़की महबूबा मुफ़्ती, कहा- वादा निभाने में नाकाम रहा भारत

धारा 370 हटाने पर भड़की महबूबा मुफ़्ती, कहा- वादा निभाने में नाकाम रहा भारत

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने धारा 370 हटाने पर बड़ा बयान दिया है। महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि यह भारतीय लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन है। केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जम्मू कश्मीर को दो हिस्सों में विभाजित कर दिया गया है। जम्मू कश्मीर अब केंद्र शासित प्रदेश होगा। वहीं, दूसरा भाग लद्दाख होगा, जहां पर विधानसभा नहीं होगी और ये भी केंद्र शासित प्रदेश होगा। 

महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि दो भागों में जम्मू कश्मीर को बंटाने के बाद भारत सरकार का वो चेहरा दिख रहा है, जो यह दर्शाता है कि भारत सरकार अपने फैसले को निभाने में विफल रही है। उल्लेखनीय है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्‍यसभा में कहा कि जम्मू कश्मीर से धारा 370 के सभी खंड लागू नहीं होंगे। इसके साथ ही अनुच्छेद 35 A को भी निरस्त कर दिया गया है।

इससे पहले रविवार की आधी रात घाटी की पूर्व सीएम और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती को नजरबंद कर लिया गया था। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए महबूबा ने ट्वीट में लिखा है कि, 'मोबाइल फोन कनेक्शन सहित इंटरनेट सेवाएं बंद किए जाने की खबरें सुनीं। कर्फ्यू का आदेश भी जारी किया जा रहा है। अल्लाह जानता है कि हमारे लिए कल का दिन क्या लाने वाला है। यह रात लंबी होने वाली है।' 

मोदी सरकार का बड़ा फैसला, जम्मू कश्मीर से अलग हुआ लद्दाख, दोनों बने केंद्र शासित प्रदेश

अमित शाह का राज्यसभा में बड़ा ऐलान, 72 साल बाद 370 मुक्त हुआ जम्मू कश्मीर

आज दिन भर कश्मीर मुद्दे से गूंजेगी कांग्रेस, आ सकता है बड़ा फैसला