सेना की सुरक्षा को ताक पर रख बोली महबूबा, कहा- ये हमारा राज्य जहाँ चाहें जाएं..

श्रीनगर: सुरक्षा बलों के काफिले को सुरक्षित मार्ग उपलब्ध कराने के लिए जम्मू-श्रीनगर-बारामूला राष्ट्रीय राजमार्ग पर सामान्य नागरिकों के लिए हर हफ्ते दो दिन आवाजाही बंद करने का फैसला रविवार को लागू हो गया। बता दें कि पुलवामा हमले के बाद सुरक्षा के मद्देनज़र यह कदम उठाया जा रहा है। समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, अधिकारियों ने बताया है कि सेना, पुलिस और सीआरपीएफ कर्मियों को राजमार्ग की तरफ जाने वाले चौराहों पर तैनात कर दिया गया है ताकि सामान्य यातायात सुरक्षा बलों के काफिले के आवागमन में किसी भी तरह हस्तक्षेप  ना करें।

त्रिपुरा में बोले पीएम मोदी, मध्यम वर्ग से बदला लेने की कोशिश में कांग्रेस, सतर्क रहें

इसको लेकर कई सियासी पार्टियां विरोध पर उतर आई हैं। रविवार को हाईवे बंद होने पर पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि "यह गलत है। हम सरकार को बताना चाहेंगे कि आप इस तरह से कश्मीरी आवाम का दमन नहीं कर सकते। यह हमारा प्रदेश है, ये हमारी सड़कें हैं, जब भी हम चाहें, हमें उनका इस्तेमाल करने का अधिकार है। आपने देखा कि छात्रों को इसकी वजह से काफी समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मैं आवाम से इस बैन को स्वीकार नहीं करने की आग्रह करती हूं। इसका उल्लंघन करें, जहां चाहें जाएं। हम इस प्रतिबंध के खिलाफ कोर्ट में जाएंगे।"

लोकसभा चुनाव: राज की उर्मिला को नसीहत, चुनाव के बाद गायब मत हो जाना

सामान्य नागरिकों के लिए यातायात 31 मई तक प्रत्येक हफ्ते रविवार और बुधवार को बंद रहेगा। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया है कि प्रदेश में चुनाव के दौरान सुरक्षा कर्मियों का आवागमन बढ़ने को देखते हुए यह प्रतिबंध लगाया गया है। श्रीनगर के मध्यम से उधमपुर से बारामूला जाने वाले मार्ग में प्रतिबंध लगाया जाएगा।

खबरें और भी:-

लोकसभा चुनाव: भाजपा ने पश्चिम बंगाल के लिए दो नाम किए घोषित, केंद्रीय मंत्री को बनाया उम्मीदवार

लोकसभा चुनाव: पीएम मोदी पर बरसीं मायावती, कहा - इनका काम केवल भाजपा की ब्रांडिंग

लोकसभा चुनाव: टिकट कटने पर भावुक हुई संतोष चौधरी, कहा - कांग्रेस दौलत की भूखी..

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -