पाकिस्तान पर 'महबूबा' को फिर आया प्यार..! कहा- कितनी भी फ़ौज बुला लो, PAK से बात करनी ही पड़ेगी

पाकिस्तान पर 'महबूबा' को फिर आया प्यार..! कहा- कितनी भी फ़ौज बुला लो, PAK से बात करनी ही पड़ेगी
Share:

श्रीनगर: PDP सुप्रीमो और जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती का पाक प्रेम एक बार फिर खुलकर सामने आया है। उन्होंने मैदा से बात करते हुए कहा कि, 'AFSPA के कारण घाटी में लोग परेशान हो गए हैं। सुरक्षा बलों को इतनी ताकत दे दी गई है, फिर भी सरपंच मर रहे हैं, लोगों पर गोली चल रही है। तो मेरे मुताबिक हमारे घर में ही कोई ना कोई कमी है, कहीं ना कहीं हम ही नाकाम होते हुए दिखाई दे रहे हैं। हमारे पास पाकिस्तान से बात करने के अतितिक्त कोई दूसरा चारा नहीं है, कितनी भी फौज ले आएँ, बात तो करनी ही पड़ेगी।'

जम्मू-कश्मीर की मौजूदा स्थिति के लिए उन्होंने केंद्र सरकार को जिम्मेदार करार देते हुए कहा कि, 'कश्मीर को तबाह किया जा रहा है। केंद्र जम्मू-कश्मीर को पूरे तरीके से खत्म करना चाहता है। यह सरकार हमारा वजूद समाप्त करना चाहती है। शायद इसलिए, क्योंकि यह मुस्लिम बहुल राज्य है। हर तरफ से हमें कमजोर करने का प्रयास किया जा रहा है।' इतना ही नहीं महबूबा ने केंद्र की मोदी सरकार और भाजपा को देश में हो रही हिंसात्मक घटनाओं के लिए जिम्मेदार बताते हुए कहा कि अचानक से लाउडस्पीकर का मुद्दा आया, इससे पहले हिजाब का मामला आया था, आगे हलाल का आएगा। महबूबा कहती हैं कि, ये सब समाज को बाँटने की साजिश लग रही है।

महबूबा ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया और कहा कि देश में रोजगार और बिजली-पानी का संकट है, ऐसे में सबसे आसान काम है, हिंदू-मुसलमानों को एक-दूसरे के खिलाफ खड़ा करना। उन्होंने कहा कि, 'यदि ऐसे ही चलता रहा तो भविष्य में हमारी स्थिति और खराब हो जाएगी। मजहब का गलत इस्तेमाल करके हमारा पड़ोसी तबाह हो गया था। वह आज तक इसका खामियाजा भुगत रहे हैं।'

'महाराष्ट्र के साथ अन्याय बंद करें...', सामना के जरिए शिवसेना ने बोला PM मोदी पर हमला

पेंशनधारकों के लिए सीएम योगी ने किया बड़ा ऐलान, अब 1 मई से शुरू होगा ये काम

गुजरात के MLA जिग्नेश मेवाणी को मिली जमानत, महिला कॉन्स्टेबल से बदसलूकी का था आरोप

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -