किसान आंदोलन में दरार, आज होने वाली 40 संगठनों की बैठक रद्द

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर आज होने वाली 40 किसान संगठनों की बैठक निरस्त हो गई है। इस बैठक में MSP कमेटी और कृषि कानूनों की वापसी के बाद आंदोलन के भविष्य को लेकर विचार-विमर्श होने वाला था। यह बैठक ऐसे वक़्त में रद्द हुई है, जब किसान आंदोलन में दरार पड़ने की खबरें भी सामने आ रही हैं।

बताया जा रहा है कि पंजाब के ज्यादातर किसान अब आंदोलन को खत्म करना चाहते हैं। हालांकि, इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत ने एक बार वापस दोहराया है कि आंदोलन जारी रहेगा। इसके अलावा अब 4 दिसंबर को संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) की बैठक प्रस्तावित है। बता दें कि संसद में सोमवार को कृषि कानूनों को रद्द किए जाने संबंधी बिल को पारित कर दिया गया था। SKM की बैठक रद्द होने के सवाल पर टिकैत ने कहा कि, बैठक 4 दिसंबर को होने वाली है। आज की बैठक किसान संगठनों के बीच की थी। उन्होंने कहा कि चूंकि सरकार ने अभी तक पूरी मांगे स्वीकार नहीं की हैं, इसलिए आंदोलन जारी रहेगा। टिकैत ने कहा कि 4 दिसंबर को होने वाली बैठक में आंदोलन के आगे की रणनीति बनाई जाएगी। 

वहीं, मंगलवार को किसान नेताओं ने दावा करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने MSP से जुड़े मुद्दे पर बात करने के लिए संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) से पांच प्रतिनिधियों के नाम मांगे हैं। किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि 5 नामों को लेकर हमारे एक साथी के पास एक फोन आया था, सरकार ने MSP से जुड़े मुद्दे पर बात करने के लिए पांच प्रतिनिधियों के नाम मांगे हैं।

विपक्षी दल अपने दम पर बीजेपी से नहीं लड़ सकते: दिनेश शर्मा

वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान के 100 वर्ष हुए पूरे, समरोह में पहुंचकर सीएम योगी ने की इनसे मुलाकात

मोदी सरकार ने मानी किसानों की ये मांग, कृषि मंत्री बोले- बड़ा दिल दिखाते हुए घर लौटें किसान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -