इस राज्य में शुरू हुआ ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ प्रोजेक्‍ट, ड्रोन से होगी दवाइयों की डिलीवरी

हैदराबाद: केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तेलंगाना में शनिवार को ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्‍काई’ प्रोजेक्‍ट शुरू कर दिया है. इस दौरान सिंधिया ने कहा कि इस प्रोजेक्‍टर के जरिए ड्रोन का उपयोग करते हुए वैक्‍सीन और दवाओं की डिलीवरी की जाएगी. पायलट प्रोजेक्‍ट के रूप में इस योजना को तेलंगाना के 16 ग्रीन जोन में आरंभ किया गया है. बाद में आंकड़ों के आधार पर इसे पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा.

सिंधिया ने कहा कि तीन माह के बाद इस प्रोजेक्‍टर के डेटा का एनालिसिस किया जाएगा. उसके बाद उड्डयन मंत्रालय, IT मंत्रालय, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय, राज्‍य सरकार और केंद्र मिलकर देशभर के लिए एक मॉडल तैयार करेंगे. उन्‍होंने कहा कि आज का दिन ना सिर्फ तेलंगाना बल्कि पूरे देश के लिए काफी क्रांतिकारी है. पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की वजह से ही इस ड्रोन पॉलिसी को तैयार किया गया और फिर आज इसका शुभारंभ किया गया है.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आगे कहा कि NDA सरकार ने नई ड्रोन पॉलिसी में कई रियायतें दी है. इसके कारण देश में अब ड्रोन का उपयोग करना सरल हो जाएगा. पहले ड्रोन को ऑपरेट करने के लिए 25 फॉर्म भरने पड़ते थे,  किन्तु अब सिर्फ पांच फॉर्म ही भरना पड़ता है. वहीं पहले ड्रोन का उपयोग करने के लिए 72 किस्म की फीस भरनी पड़ती थी, लेकिन अब सिर्फ चार तरह का ही शुल्कस चुकाना पड़ता है. वहीं ग्रीन जोन में ड्रोन उड़ाने के लिए किसी प्रकार की इजाजत की जरूरत नहीं पड़ती है. हालांकि रेड जोन में ड्रोन उड़ाना पूरी तरह से प्रतिबंधित है.

एक बार फिर केजरीवाल ने दिया बड़ा बयान, कहा- "पदों और टिकटों की लालसा न रखें...."

'विधानसभा में नमाज़ के लिए अलग कमरा..', कांग्रेस नेता बोले- धर्म को राजनीति से दूर रखें

गुजरात में बड़ा सियासी उलटफेर, सीएम विजय रूपाणी ने अचानक पद से दिया इस्तीफा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -