यौन उत्पीड़न के आरोप झेल रहा मेडिकल काॅलेज का प्रोफेसर सस्पेंड

भुवनेश्वर : ओडिशा में एक चिकित्सा महाविद्यालय के प्रोफेसर को पकड़ लिया गया था। दरअसल उस पर एक अनुसूचित जाति की छात्रा का यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया गया था। ओडिशा सरकार ने इस प्रोफेसर को निलंबित कर दिया। मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारी द्वारा कहा गया कि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने एनिस्थिसिया विभाग के प्रोफेसर लक्ष्मीधर दास को निलंबित करने के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी।

दरअसल विभाग की स्नातकोत्तर की छात्रा की शिकायत पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। छात्रा द्वारा सीआरपीसी की धारा 164 के अंतर्गत मजिस्ट्रेट के सामने अपना बयान दर्ज करवा दिया गया है। उल्लेखनीय है कि  कटक में 26 फरवरी को न्यायालय द्वारा जमानत याचिका खारिज कर दी गई। पुडुचेरी की निवासी एक महिला ने आरोप लगाया था कि दास ने उसे विभाग में बुलाकर छेड़छाड़ की। इस मामले में उसने आरोप भी लगाया कि बीते वर्ष सितंबर से ही प्रोफेसर द्वारा उसका यौन उत्पीड़न किया गया था।

कटक में मंगलबाग पुलिस द्वारा  प्रोफेसर दास पर यौन उत्पीड़न को लेकर धारा 354 (ए) और 354 डी के तहत कार्रवाई की गई। साथ ही अनुसूचित जाति और जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत उसे पकड़ा गया। हालांकि प्रोफेसर ने अपने उपर लगे आरोपों से इंकार कर दिया है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -