CM योगी से बैठक के बाद मीट विक्रेताओं की हड़ताल ख़त्म

लखनऊ : योगी सरकार द्वारा बूचड़खानों पर कार्रवाई का विरोध करते हुए शनिवार से हड़ताल कर रहे मीट विक्रेताओं ने गुरुवार को सीएम योगी से मुलाकात के बाद अपनी हड़ताल खत्म कर दी. शुक्रवार से कारोबारी अपनी दुकान खोलेंगे. गौरतलब है कि योगी सरकार द्वारा बूचड़खानों पर कार्रवाई का विरोध करते हुए मीट विक्रेता शनिवार से हड़ताल कर रहे थे. चिकन विक्रताओं ने अपने शटर बंद कर दिए थे. मीट कारोबारियों ने सीएम योगी आदित्यनाथ से इस समस्या का हल निकालने की गुहार लगाई थी.

अवैध दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई शुरू किये जाने से मीट कारोबार पर बुरा असर पड़ा. राज्य में मीट का कारोबार ठप होने से कारोबारी नाराज थे. हालाँकि इसके पूर्व मंगलवार को मीट कारोबारियों के संगठन के जमैतुल कुरैशी ने इस मामले में उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह से मुलाकात की थी.

बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि सरकार किसी पूर्वाग्रह से काम नहीं कर रही है. मीट कारोबारियों के साथ बैठक सकारात्मक रही है, लेकिन अवैध बूचड़खानों को राहत नहीं मिल पाएगी. बैठक में सीएम योगी ने कहा कि अवैध कारोबार पर कार्रवाई बंद नहीं होगी, लेकिन किसी अधिकारी को नाजायज़ तरीके से कार्रवाई नहीं करने दी जाएगी. मीट के कारोबारियों को अपनी गलतियां सुधारने का अवसर दिया जाएगा. कारोबारी अपने लाइसेंस को नवीनीकरण करवाएं. बूचड़खानों और मीट की दुकानों को नियमों और सही तरीकों से ही चलाएं. बताया जा रहा है कि मीट कारोबारी सीएम की बातों और उनके भरोसे से संतुष्ट दिखे.

यह भी देखें

पवित्र नगरी से मांस, मदिरा की दुकानें हटाओ या मुझे जेल में डाल दो- राष्ट्रसंत

यूपी के बूचड़खाने का मुद्दा संसद में गूंजा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -