भारतीय आर्मी की ताकत के आगे बौखलाया चीन, विदेश मंत्रालय ने दिया मुंहतोड़ जवाब

बीते काफी दिनों से लद्दाख और उत्तरी सिक्किम में भारत और चीन के सैनिकों में हुई झड़पों के बाद सीमा पर बढ़ी तनातनी के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय ने दो टूक कहा है कि भारत अपनी संप्रभुता और सुरक्षा करने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध और सक्षम है. भारतीय सैनिक सीमा से पूरी तरह वाकिफ हैं. चीनी सैनिकों ने ही भारतीय बलों की ओर से की जा रही गश्त में बाधा डालने का काम किया है. 

हमारी सरकार ने 5 महीने के लिए लोगों को मुफ्त गैस और राशन दिया - निर्मला सीतारमण

अपने बयान में विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारतीय सुरक्षा बल के जवान सीमा से पूरी तरह परिच‍ित है और उन्‍होंने सीमा की रखवाली के लिए निर्धारित प्रक्रियाओं का पालन किया है. एलएसी के पार की गतिविधियों की बात सही नहीं है. हम सीमा पर शांति बरकरार रखने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं. जहां तक सैनिकों के बीच हुई नोकझोंक का सवाल है तो इस मसले पर दोनों ही देशों के राजनयिक एक-दूसरे से संपर्क में रहते हैं. 

अयोध्या: खुदाई में मूर्तियां निकलने पर बोले संजय राउत- 'ये समय राम मंदिर निर्माण का नहीं '

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि चीन के साथ सीमा पर जब भी तनाव होता है तो भारत संभल कर बयान देता है लेकिन गुरुवार को भारत ने चीन पर ना सिर्फ अंतरराष्ट्रीय सीमा का उल्लंघन करने का आरोप लगाया है बल्कि दो टूक यह भी बता दिया है कि भारत अपनी सीमा की रक्षा करने में भी पूरी तरह से सक्षम है. इस बयान से जाहिर है कि पांच और नौ मई को लद्दाख और सिक्किम के उत्तरी क्षेत्र में चीन के सैनिकों के भारतीय सीमा में प्रवेश करने का घटनाक्रम अब ज्यादा गंभीर रूप ले रहा है. 

केवल राशन पर्याप्त नहीं, मजदूरों को नकदी की भी जरुरत- रघुराम राजन

भारतीय रेलवे का बड़ा ऐलान, आज से स्टेशन काउंटर पर बुक कराए जा सकेंगे रेल टिकट

पीएम मोदी ने स्वीकार की ममता की अपील, आज ही करेंगे 'अम्फान' प्रभावित बंगाल का दौरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -