पुलिस की हत्या पर भड़की मायावती, कहा-अपराधियों को किसी भी कीमत पर...छोड़े सरकार..

पुलिस की हत्या पर भड़की मायावती, कहा-अपराधियों को किसी भी कीमत पर...छोड़े सरकार..

 

उत्तरप्रदेश के जिले कानपुर में शातिर अपराधी के खिलाफ पुलिस ने कार्यवाही की है. इस शातिर हिस्ट्रीशीटर का नाम है विकास दुबे. विकास दुबे से मुकाबला करने में आठ पुसिलकर्मियों शहीद हो गए है. जिसके बाद प्रदेश में आक्रोश व्याप्त हो गया है. सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ ही डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी जहां अपराधी को पकडऩे की जुगत में हैं, वहीं बसपा मुखिया मायावती ने इस प्रकरण को बेहद शर्मनाक बताया है.

'सुपर एनाकोंडा' के बाद पटरी पर दौड़ी 'शेषनाग', भारतीय रेलवे ने रचा नया इतिहास

मामले की गंभीरता को देखते हुए मायावती ने शीघ्र पुलिस कार्यवाही करने की आशा की है. वही, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने अपराधियों को जिंदा पकडऩे की मांग की है. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रदेश की खराब कानून-व्यवस्था को इसका कारण बताया है. विपक्ष के तीनों नेताओं ने ट्वीट किया है.

सिंधिया ने शिवराज को कहा टाइगर, दिग्गी राजा बोले- हम शेरों का शिकार किया करते थे...

बसपा की मुखिया मायावती ने अन्य नेताओं की तरह इस आपराधिक घटना पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. जिसमें उन्होने कहा कि कानपूर में शातिर अपराधियों से एक भिड़ंत में डिप्टी एसपी सहित आठ पुलिसकॢमयों की मौत व सात अन्य के आज तड़के घायल होने की घटना अति-दु:खद, शर्मनाक व दुर्भाग्यपूर्ण. यह स्पष्ट है कि योगी आदित्यनाथ सरकार को अब भी खासकर कानून-व्यवस्था के मामले में और भी अधिक चुस्त व दुरुस्त होने की जरूरत है. वही, मायावती ने कहा कि इस सनसनीखेज घटना के लिए अपराधियों को सरकार को किसी भी कीमत पर छोडऩा नहीं चाहिए, चाहे इसके लिए विशेष अभियान चलाने की जरूरत क्यों न पड़े. इसके साथ ही बसपा की मांग है कि सरकार इस ऑपरेशन में शहीद पुलिस के परिवार को समुचित अनुग्रह राशि के साथ ही परिवार के किसी सदस्य को नौकरी भी दे.

अब यहां पर शनिवार-रविवार को रहेगा टोटल लॉकडाउन, दुकानें खुलने का भी वक्त बदला

'ड्रैगन' पर नकेल कसने की तैयारी ! लद्दाख से लौटने के बाद पीएम मोदी कर सकते हैं बड़ी बैठक

कानपुर एनकाउंटर: पुलिसकर्मियों की शहादत पर सियासत तेज़, प्रियंका ने योगी सरकार को घेरा