महागठबंधन की गाँठ खुली, मायावती ने बताया कांग्रेस-बीजेपी को एक जैसा

Sep 11 2018 02:19 PM
महागठबंधन की गाँठ खुली, मायावती ने बताया कांग्रेस-बीजेपी को एक जैसा

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी द्वारा पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया था. जिसके बाद आज कांग्रेस के महागठबंधन की सदस्य और बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दामों के लिए कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी दोनों को जिम्मेदार बताया है.  मायावती की टिप्पणियां भारत बंध में अपने पार्टी के निराशाजनक शो के एक दिन बाद आई.

जम्मू-कश्मीर: सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 2 आतंकी हुए ढेर

एक न्यूज़ चैनल से बात करते हुए मायावती ने कहा कि बसपा की नज़रों में पेट्रोल डीज़ल के बढ़ते दामों के लिए कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही जिम्मेदार हैं. उल्लेखनीय है कि मायावती महागठबंधन में कांग्रेस के साथ हैं, ऐसे में उनका कांग्रेस पर आरोप लगना इस बात इस तरफ इशारा करता है कि मायावती को गठबंधन से कोई सरोकार नहीं है, साथ ही 2019 से पहले यह गठबंधन दम तोड़ सकता है. क्योंकि राहुल गाँधी जहाँ बीजेपी के खिलाफ पुरे विपक्ष के एकजुट होने का दम भर रहे हैं, वहीँ उनके सिपहसालार अपनी ही सेना में कमियां निकालने से नहीं चूक रहे हैं. इससे पहले सोमवार को, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला और वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के बारे में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि भारत के लोगों को धोखा दिया जा रहा है.

गणेश चतुर्थी 2018: कदमा में बनेगा 100 साल के इतिहास का सबसे भव्य पंडाल

उन्होंने कहा कि सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर उत्पादकता और कस्टम शुल्क क्रमश: 212 प्रतिशत और 400 प्रतिशत से अधिक बढ़ा दिया है. इससे पहले, उसी दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ दिल्ली में विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व किया था. पूर्व प्रधान मंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी विरोध में शामिल हुए थे, शरद पवार, शरद यादव, मनोज झा, सोमनाथ भारती, गुलाम नबी आजाद और मनोज शर्मा समेत शीर्ष विपक्षी नेता भी मौजूद थे. 

खबरें और भी:-​

50 साल तक बीजेपी को कोई नहीं हरा सकता :अमित शाह

'दलित' शब्द के उपयोग को लेकर अठावले ने दी सुप्रीम कोर्ट जाने की धमकी

दूसरी दुनिया से मिली तरंगें, वैज्ञानिकों ने कहा हो सकते हैं जीव

?