+

मायावती ने साधा प्रियंका पर निशाना, कहा- घड़ियाली आंसू ना बहाए कांग्रेस

मायावती ने साधा प्रियंका पर निशाना, कहा- घड़ियाली आंसू ना बहाए कांग्रेस

लखनऊ: सोनभद्र के घोरावल थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले उम्भा गांव में 17 जुलाई को हुए नरसंहार को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने मंगलवार को कांग्रेस और समाजवादी पार्टी (सपा) पर हमला बोलते हुए कहा है कि, अब इस घटना पर सपा और कांग्रेस के नेताओं को अपने घड़ियाली आंसू बहाने के स्थान पर पीड़ित आदिवासियों को उनकी जमीन वापस दिलाने के लिए कार्य करना चाहिए. यही उनके लिए सबसे अधिक मदद होगी. इससे बेहतर कुछ नहीं होगा. 

बसपा सुप्रीमो ने अपने ट्वीट में लिखा है कि 'सोनभद्र काण्ड के पीड़ित आदिवासियों के मुताबिक पहले कांग्रेस व फिर सपा के भू-माफियाओं ने इनकी जमीन हड़प ली, जिसका विरोध करने पर, इनके कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया।' एक अन्य ट्वीट में मायावती ने लिखा कि 'अब इस घटना को लेकर सपा व कांग्रेस के नेताओं को अपने घड़ियाली आँसू बहाने की बजाय इन्हें वहाँ पीड़ित आदिवासियों को, उनकी जमीन वापिस दिलाने हेतु आगे आना चाहिये। तो यह सही होगा।'

इससे पहले कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को पीड़ित परिवार वालों से मुलाकात करने उम्भा पहुंची और उनका हालचाल जाना. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने प्रियंका की इस यात्रा को राजनीतिक स्टंट बताते हुए कहा कि कांग्रेस महासचिव को सोनभद्र में अपनी ही पार्टी के नेताओं के पूर्व के कृत्यों के लिए पश्चात्ताप करना चाहिये.

हांगकांग में आज भी रद्द रही विमान सेवाएं, ये है कारण

भाजपा के संगठन चुनाव का कार्यक्रम तय, 11 सितंबर से शुरू होगी प्रक्रिया

CBSE के परीक्षा शुल्क बढ़ाए जाने पर मायावती ने जताया विरोध, कहा - ये फैसला जातिवादी