मायावती ने किया यूपीकोका का विरोध

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने बुधवार को उत्तरप्रदेश कंट्रोल आॅफ आॅर्गनाइज्ड क्राइम एक्ट बिल के विरोध में बयान दिया है। बसपा प्रमुख ने कहा है कि, इस एक्ट से दलितों, पिछड़ों और गरीबों का ही दमन होगा। इस मामले में मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा कि, भारतीय जनता पार्टी की सरकार अपराधियों और माफियाओं को नियंत्रित करने के नाम पर जाति, संप्रदाय के लोगों को अपना शिकार बनाने में लगी है।

जबकि प्रत्येक प्रकार का संगठित अपराध, गुंडागर्दी भाजपा की शह पर हो रही है। राज्य में अपराधियों और माफियाओं पर लगाम लगाने के नाम पर जाति और संप्रदाय विशेष के लोगों को शिकार बनाया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि, आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के स्थान पर उन्हें सरकारी संरक्षण दिया जा रहा है।

उन्होंने इस विधेयक को वापस लेने की मांग की और कहा कि इसे वापस ले लिया जाए। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने विधानसभा के सत्र में यूपीकोका बिल पेश करने की तैयारी कर ली है। कहा जा रहा है कि इस बिल को मकोका जो कि महाराष्ट्र में कार्यरत है के तहत तैयार किया गया है। हालांकि इस विधेयक का प्रारूप मायावती के ही कार्यकाल में वर्ष 2007 में तैयार कर लिया गया था लेनि अब बसपा ही इसका विरोध कर रही है।

सीएम और डीएम के नाम पत्र लिख, सभासद ने लगाई फांसी

सवालों के बदले घूस मामले में घिरे पूर्व सांसद

राष्ट्रगान मामले पर बीजेपी पर बरसीं मायावती

टोल प्लाजा पर फायरिंग करने वाला बसपा नेता गिरफ्तार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -