3 मई: सुबह की सुर्खियां

कर्नाटक में 15 नहीं 21  रैलियां करेंगे मोदी  
कर्नाटक में विधान सभा चुनाव प्रचार की मुहीम को और तेज करने के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब सूबे में 21 रैलिया करेंगे जिसकी मिन्नत कर्नाटक बीजेपी के नेताओं ने पार्टी से की थी. अब पीएम मोदी 15 की जगह कुल 21 रैलियां करेंगे. प्रचार के नए तरीके को अपनाते हुए कल ही ‘नरेन्द्र मोदी एप’ के जरिये संवाद करते हुए मोदी ने बुधवार को कहा, ‘‘कर्नाटक से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित शिकायतें मिल रही है. कर्नाटक सरकार उदासीन है. वह प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से एक किसान को मिलने वाले फायदे के बारे में परवाह नहीं करती है.’’

यूपी: ओमप्रकाश राजभर ने किया योगी से जंग का एलान 
लखनऊ : कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर शराबबंदी को लेकर अपने ही मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ खड़े हो गए है और ऐलान-ए- जंग कर चुके है. राजभर ने कहा कि उनकी लड़ाई मुख्यमंत्री से है. 20 तारीख से होने वाले आंदोलन में मुख्यमंत्री ने साथ नहीं दिया, तो 2019 के लोकसभा चुनाव में महिलाओं से वोट के बहिष्कार की अपील करेंगे. राजभर बलिया जिले में बोल रहे थे. ओमप्रकाश राजभर यही नहीं रुके वे सभी क्षेत्रों में महिलाओं के लिए 50 फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर भी तठस्थ है और प्रदेश में हो रही बलात्कार की घटनाओं के लिए प्रशासन को कोसने से भी नहीं चूके.

किसानों ने फिर किया गांव बंद का एलान 
एक बार फिर देश का किसान एक जुट हो कर सरकार के खिलाफ आंदोलन करने की तैयारी कर रहा है. चंडीगढ़ में इकट्ठा हुए किसान नेताओं ने 1 से 10 जून तक अपने गांव को सील करने और गांव से बाहर शहर में कोई भी सामान जैसे कि सब्जियां, फल और दूध ना भेजने का ऐलान कर दिया है. इस प्रकार एक बार फिर अन्नदाता सड़को पर उतरने की कवायद में है. एग्रीकल्चरल एक्टिविस्ट देवेंद्र शर्मा की अगुवाई में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये चंडीगढ़ में पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश के कई किसान संगठनों से जुड़े किसान नेताओ ने ये हुंकार भरी है. एलान के अनुसार 1 जून से लेकर 10 जून तक गांव को पूरी तरह से सील कर दिया जाएगा और किसी को भी गांव से बाहर सामान सप्लाई करने की परमिशन नहीं दी जाएगी.

देश के कई राज्यों में बारिश और तूफान ने ली दर्जनों जान 
दिल्ली- मौसम में आये अचानक बदलाव ने देश के कई राज्यों में कोहराम मचा दिया है और एनसीआर के आलावा पूर्वोत्तर, दक्षिण भारत के राज्यों राजस्थान, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश इस बेमौसम की बारिश से बुरी तरह प्रभावित हुए. राज्यों में जनधन की हानी हुई है. इस तबाही में राजस्थान में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई, जबकि 50 लोग घायल हो गए. बरसात और तूफान के चलते राजस्थान के भरतपुर में सात, धौलपुर में पांच और अलवर में तीन लोगों की मौत हो गई. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में चार लोगों की मौत हो गई और दो लोग जख्मी हो गए. इसके अलावा आंध्र प्रदेश में मूसलाधार बारिश और तूफान की वजह से 13 लोगों की जान चली गई और पांच लोग लापता हो गए.

जापान:  64 लोग 2 घंटे तक उल्टे लटके 
एक सांसे रोक देने वाले हादसे में एक साथ कई लोग हवा में उलटे लटके रहने को मजबूर हो गए .मामला पश्चिमी जापान के यूनीवर्सल स्टूडियोज़ एम्यूज़मेंट पार्क का है जहा एक रोलर कोस्टर( मेले में लगा गोल घूमने वाला पवन झूला) के अचानक ऊपर की और रुक जाने से उसमे बैठे करीब 64 लोग 2 घंटे तक उल्टे लटके रहे और स्थानीय मीडिया के अनुसार मिली जानकारी की माने तो उन्हें अचानक इमरजेंसी स्टॉप के कारण इस वाकिये से रूबरू होना पड़ा. लोग लगभग 100 फीट की ऊंचाई पर उलटे लटक गए थे. ओसाका में स्थित इस स्टूडियो ने लोगों से माफी मांगते हुए बताया कि रोलर कोस्टर के रुकने का कारण एक सेंसर में गड़बड़ी होना था. बाद रिपेयरिंग के बाद एम्यूज़मेंट पार्क में सेवाएं शुरू कर दी गईं.

-आईपीएल : दिल्ली की राजस्थान पर रोमांचक जीत  

देश के कई राज्यों में बारिश और तूफान ने ली दर्जनों जान

यूपी: ओमप्रकाश राजभर ने किया योगी से जंग का एलान

ऐसा गांव जहाँ हर घर के बाहर बनी है कब्र

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -