मॉरीशस के अविनाश होंगे वेटलिफ्टिंग के पहले हाई परफार्मेंस निदेशक

खेल मंत्रालय ने पेरिस ओलंपिक तक वेटलिफ्टिंग के लिए हाई परफार्मेंस निदेशक (एचपीडी) के रूप में मॉरीशस के अविनाश पांडू की नियुक्ति को मंजूरी प्रदान कर दी है। वह इस खेल में इस पद पर नियुक्त होने वाले प्रथम व्यक्ति बन चुके है। 

उनकी नियुक्ति की सिफारिश इंडियन खेल प्राधिकरण (साई) की विदेशी कोच चयन सहित ने इंडियन वेटलिफ्टिंग महासंघ (आईडब्ल्यूएफ) के अधिकारियों के साथ मिलकर की। SAI ने बोला है कि उनकावार्षिक वेतन तकरीबन 40.50 लाख रुपये (54,000 डॉलर)  होने वाला है।  उनकी नियुक्ति का मकसद खिलाड़ियों की क्षमता बढ़ाने के साथ मजबूत कोचिंग संरचना बनाने वाले है। दक्षिण अफ्रीका में रहने वाले 46 साल के पांडू को दक्षिण अफ्रीका और इंडोनेशिया में दो दशकों से  ज्यादा का कोचिंग अनुभव है। 

HPD के रूप में पांडू ने रियो डी जनेरियो में 2016 के ओलंपिक खेलों में इंडोनेशिया के दो भारोत्तोलकों को पदक जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा चुके है। पांडू ने केपटाउन से बोला है कि वह भारोत्तोलन के लिए भारत के पहले एचपीडी के रूप में कार्यभार संभालने के लिए एक्ससाइटेड है। 

पांडू ने बोला है कि मुझे विश्वास है कि मैं बेहतरीन प्रदर्शन करने की कोशिश करूँगा। मैं प्रतिभा पहचान और प्रदर्शन को विकसित करने में सहायता करने के लिए युवाओं और जूनियर वर्गों में अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करने वाला है।

AFC: कप्तान आशालता देवी ने किया चौकाने वाला खुलासा, कहा- "क्वार्टर फाइनल में पहुंचना और..."

नोआमी है सबसे अधिक कमाई वाली खिलाड़ी, PV सिंधु एक मात्र भारतीय प्लेयर

एक बार फिर पुलिस की हिरासत में आए नोवाक जोकोविच

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -