1 फरवरी को है मौनी अमावस्या, कालसर्प दोष से मुक्ति के लिए करें ये 5 उपाय

आप सभी को बता दें कि हर साल मौनी अमावस्या आती है और इस साल यह 1 फरवरी को है। ऐसे में कहा जाता है कालसर्प दोष जिन जातकों की कुंडली में होता है, उनका जीवन संघर्ष से भरा रहता है। वहीँ ज्योतिष के अनुसार ऐसे जातकों के जीवन में महत्वपूर्ण कार्य समय पर पूरे नहीं होते हैं। इसके अलावा बार-बार हानि का सामना करना पड़ता है। हालाँकि इस दोष से मुक्ति पाने के लिए माघ मास की अमावस्या यानि मौनी अमावस्या के दिन कुछ आसान उपाय किये जा सकते हैं। आज हम आपको उन्ही उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं। अगर आपकी कुंडली में कालसर्प दोष है तो आप इन उपायों को आजमा सकते हैं।


 कालसर्प दोष (Kaal Sarp Dosh) से मुक्ति के लिए-

1- मौनी अमावस्या के दिन चांदी के नाग-नागिन की पूजा करने से इस दोष से राहत मिलती है। वहीँ पूजा के बाद नाग-नागिन के इन स्वरूपों को सफेद फूलों के साथ नदी में प्रवाहित कर दें। ऐसा करेंगे तो कालसर्प दोष से मुक्ति मिल जाएगी।

2- इस दिन पवित्र नदी में स्नान करना चाहिए और उसके बाद भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए। इसके बाद शिव तांडव स्तोत्र का पाठ करें। ऐसा करने से शिव कृपा होगी और कालसर्प दोष दूर हो सकता है। 

3- मौनी अमावस्या के दिन शाम के समय तुलसी के पौधे के समीप घी का दीपक लगाएं और 108 परिक्रमा करें। ऐसा करने से जीवन में सात्विकता आने के साथ ही समस्त प्रकार के संकटों का नाश होता है।


4- घर के ईशान कोण में शाम को गाय के घी का दीपक जलाएं। इस दिन दीपक में रुई की बत्ती की जगह लाल धागे का उपयोग करें। ध्यान रहे दीपक में केसर की पत्तियां डाल दें, क्योंकि इससे लाभ होगा।

5- इस दिन 1008 महामृत्युंजय मंत्र के जाप करते हुए भगवान शिव का पंचामृत से अभिषेक कराएं, इससे व्यक्ति के सुख-सौभाग्य में वृद्धि होगी। इसके अलावा आर्थिक संकटों का समाधान भी होगा।

मौनी ने शादी की तस्वीरों के साथ लिखा सप्तपदी मंत्र, जानिए शादी के 7 मंत्र और उनके अर्थ

कब है मौनी अमावस्या, जानिए शुभ मुहूर्त और नियम

सोमवती अमावस्या के दिन पितरों को प्रसन्न करने के लिए करें यह उपाय

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -