इंसानियत के लिए रहमत थे पैगंबर हजरत मोहम्म्द

Dec 04 2017 09:48 AM
इंसानियत के लिए रहमत थे पैगंबर हजरत मोहम्म्द

रांची। झारखंड में मौलाना हसन पत्थलकुदवा में जलसा सीरतुन्नबी का आयोजन हुआ। इस कार्यक्रम में मस्जिद - ए - जाफरिया के इमाम खतीब मौलाना हाजी तहजीबुल रिजवी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पैगंबर हजरत मोहम्मद सल्ल, केवल एक समाज या एक देश के लिए नहीं थे, बल्कि वे संपूर्ण इंसानियत हेतु रहमत थे। उन्होंने जो संदेश दिए हैं, जो प्रेम का मार्ग बताया है उसे अपनाया जाना चाहिए।

जलसे की अध्यक्षता मजलिस के अध्यक्ष मुफ्ती अब्दुल्लाह अजहर कासमी ने की। हदीस और कुरान की शांति, सद्भाव और विभिनन बातों का प्रचार करने की अपील भी उन्होंने की। प्रारंभ में शहर काजी कारी जान मोहम्मद की तिलावत से जलसे का प्रारंभ किया गया।

इस अवसर पर मुफ्ती जियाउल हक कासमीए कारी अब्दुल हफीजए कारी आबिदए शमशेर आलमए निहाल अहमदए शाह उमैरए हाजी मो. निसार, मास्टर उस्मान, सुलतान दानिश, अब्दुल रहीम, मो. शमीम, हाजी महमूद, हाजी शहजाद, मुख्तार अहमद, शमीम अहमद, निजाम अहमद, मुबीन अहमद, जिलानी अहमद समेत कई लोग मौजूद थे। उपस्थितों ने मोहब्बत की शमा को रोशन करने की अपील की।

हिन्दू-मुस्लिम एकता का संगम-नूंह

2100 मुस्लिम लड़कियों से शादी करेंगे हिन्दू

इस मुस्लिम महिला पर बना बार्बी डॉल का नया कैरेक्टर

शादी के लिए लड़के का धर्म परिवर्तन