हलाला के नाम पर मौलाना ने कराया महिला का सामूहिक बलात्कार, 2 गिरफ्तार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ से हलाला के नाम पर तीन तलाक पीड़िता के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला प्रकाश में आया है। पीड़िता के अनुसार, टीपीनगर स्थित एक होटल में हलाला के नाम पर एक मौलाना ने उसका सामूहिक बलात्कार कराया। महिला ने बताया कि, 'वह अपने शौहर से वापस निकाह करना चाहती थी। इसके लिए मौलाना ने उसे हलाला करने को कहा। इसके बाद उसने दो लोगों को बागपत से बुलाकर हलाला के बहाने उसका गैंगरेप कराया।”

मेरठ के पुलिस अधीक्षक सिटी विनीत भटनागर के मुताबिक, महिला की शिकायत पर पुलिस ने तीनों आरोपितों उम्मेद, रियासत और मौलाना सरफराज के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल मौलाना सरफराज फरार बताया जा रहा है। पुलिस ने उम्मेद व रियासत को जेल भेज दिया है और मौलाना की खोज में जुट गई है। बताया जा रहा है कि लिसाड़ी गेट की रहने वाली महिला का 6 महीने पहले तलाक हो गया था। अब शौहर और बीवी फिर से एक साथ रहने को तैयार हुए हैं। लिसाड़ी गेट की शाहजहाँ कॉलोनी के एक मौलाना सरफराज से जब उन्होंने इसके लिए पूछा तो मौलाना ने बताया कि महिला को पहले हलाला कराना होगा। इसके बाद ही वह अपने पहले शौहर से वापस निकाह कर सकती है।

इसके लिए मौलाना सरफराज ने बागपत के दोघट के गाँव मिलाना के निवासी अपने परिचित हाफिज उम्मेद और रियासत को 24 अक्टूबर को मेरठ बुलाया। रात लगभग नौ बजे नूरनगर पुलिया के समीप महिला को दोनों आरोपितों के साथ भेज दिया। महिला को बताया गया कि हाफिज निकाह करा देंगे और हलाला होने के बाद सुबह घर वापस लौट आना। इसके बाद आरोपित उसे लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग-58 पर स्थित एक होटल में लेकर पहुंचे। यहाँ उन्होंने महिला के साथ सामूहिक बलात्कार किया। पीड़िता ने होटल से ही अपने मौसेरे भाई को इसकी सूचना दी, जिसके बाद उसके भाई ने पुलिस को रात में ही गैंगरेप के बारे में सूचित कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल मौलाना फरार है। 

यूपी में दलित नाबालिग के साथ सामूहिक बलात्कार, हत्या के बाद पेट के निचले हिस्से को काटकर निकाला

एलुरु सब-रजिस्ट्रार के खिलाफ यौन उत्पीड़न का मामला हुआ दर्ज

गुरुग्राम में 5 वर्षीय बच्ची की बलात्कार के बाद हत्या, पड़ोसी ही निकला दरिंदा

 

Most Popular

- Sponsored Advert -