मैटरनिटी लीव के लिए मिल पाएंगे 8 महीने

मैटरनिटी लीव के लिए मिल पाएंगे 8 महीने

नई दिल्ली : महिला एवं बाल विकास मंत्रालय के द्वारा हाल ही में मैटरनिटी लीव को लेकर एक नया फैसला लिया गया है. बताया जा रहा है कि मैटरनिटी लीव की अवधि को 3 महीने से बढाकर 8 महीने किए जाने का प्रस्ताव पेश किया गया है. साथ ही यह जानकारी भी प्राप्त हुई है कि इस मामले में महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बात हुई है और इस मामले को आगे केबिनेट के पास विचार के लिए भेज दिया गया है. माना यह भी जा रहा है कि सरकार भी इस मुद्दे को ध्यान में रखते हुए मैटरनिटी लीव को 8 महीने कर सकती है.

मामले में यह जानकारी सामने आई है कि इस 8 महीने की अवधि के अंतर्गत ड्यू डेट से पहले का एक महीना और फिर डिलीवरी के बाद के 7 महीने शामिल रहेंगे. साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि यदि यह नियम लागू किया जाता है तो फ़िलहाल चल रहे मैटरनिटी बेनिफिट और फैक्टरी एक्ट में काफी बदलाव करना पड़ सकते है. महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने इस सुविधा का लाभ सभी सेक्टर में काम कर रही महिलाओ को मिले इसके लिए श्रम मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है और सभी महिलाओं को एक दायरे में लेकर आने की बात की है.