गिलानी को पाकिस्तान भेज देना चाहिए : योगी

Apr 17 2015 09:14 AM
गिलानी को पाकिस्तान भेज देना चाहिए : योगी
style="text-align: justify;">उत्तरप्रदेश/गोरखपुर : गोरखपुर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद और गोररक्ष पीठ के महंत आदित्यनाथ ने श्रीनगर में विवादित भाषण देने वाले मसरत आलम और सैयद अली गिलानी को देशद्रोही करार दिया। उन्होंने कहा कि गिलानी, यासीन मलिक और मसरत सभी संपोले हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर में पाकिस्तानी झंडा लहराने वालों को पाक में ही भेज देना चाहिए।

आदित्यनाथ ने कहा कि ये लोग भारत विरोधी गतिविधियों में शुरू से ही नेतृत्व देते रहे हैं। साथ ही कश्मीर के अंदर भारत विरोधी वातावरण पैदा करते हैं। महंत आदित्यनाथ ने कहा, "बुधवार को जम्मू-कश्मीर में जो कुछ हुआ है, वह एक बार फिर अलगाववादियों और पाकिस्तान दोनों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए अवसर देता है। मुझे लगता है कि देश की अखंडता और सुरक्षा के साथ समझौता नहीं होना चाहिए।

जम्मू में पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों और झंडे लहराने वालों की पहचान कर उन्हें परिवार के साथ पाकिस्तान भेज देना चाहिए।" उन्होंने कहा कि हाफिज सईद पहले से 26/11 की घटना में मोस्ट वांटेड है। पाकिस्तान ने सईद, लखवी जैसे आंतकियों को शरण दे रखी है। इससे साबित होता है कि पाकिस्तान पूरी दुनिया के लिए खतरनाक देश बन गया है। आजम खान के देश छोड़ने वाले बयान पर महंत ने कहा कि संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति का इस तरह का बयान उनकी तालिबानी मानसिकता को दर्शाता है।

इसकी निंदा की जानी चाहिए। जनता परिवार के विलय पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि ये मुलायम सिंह और लालू के परिवार का विलय है और जनता इससे बाहर है। वहीं, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परिवार की जासूसी के मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा कि पूरा देश ये जानना चाहता है, ऐसा कौन सा रहस्य है, जिसे कांग्रेस नेतृत्व छिपाना चाहती थी। मोदी ने उस रहस्य को जनता के सामने लाने की बात की है। जल्द ही सच्चाई सामने आएगी।