रिहाई के बाद गिरफ्तार हुआ मसर्रत आलम

जम्मू : जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेता मर्सरत आलम की रिहाई के बाद उसे तुरंत गिरफ्तार कर लिया गया। दरअसर जम्मू-कश्मीर उच्च न्यायालय ने मर्सरत आलम को रिहा कर दिया था। इस दौरान लोक सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई। मगर उसे रिहा करने के तुरंत बाद ही शाम को उसे पकड़ लिया गया। इसके पीछे फिर से अलगाव भड़कने की आशंका का कारण दिया गया। मंगलवार की शाम कोट भलवल जेल के बाहर उसे फिर से पकड़ लिया गया। 

मिली जानकारी के अनुसार न्यायमूर्ति एमएच अत्तर की अध्यक्षता वाली जम्मू - कश्मीर उच्च न्यायालय की एकल पीठ ने पीएसए के अंतर्गत उसकी सजा को खारिज कर दिया था। इसके बाद उसे छोड़ दिया गया था। मगर इसके बाद मसर्रत आलम को अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी की एक रैली के आयोजन के बाद पीएसए के अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया था।

रैली में पाकिसतान के झंडे फहराए गए थे। इसके बाद मुफ्ती मुहम्मद सईद की सरकार की आलोचना की गई। इस तरह की घटना के कुछ ही दिनों पूर्व भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन कर सईद ने सरकार का गठन किया। ऐसा दूसरी बार हुआ जब उच्च न्यायालय द्वारा मसर्रत आलम की हिरासत को खारिज कर दिया गया। मगर उसे फिर से गिरफ्तार कर लिया गया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -