बुरे दिनों में नीम करोली बाबा के मंदिर में आर्शीवाद लेने आए थे जकरबर्ग

Oct 01 2015 02:43 PM
बुरे दिनों में नीम करोली बाबा के मंदिर में आर्शीवाद लेने आए थे जकरबर्ग

पंतनगर : फेसबुक CEO मार्क जकरबर्ग ने एक नया खुलासा किया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात के दौरान जकरबर्ग ने कहा था कि अपने बुरे दौर में वो भारत के दौरे पर आए थे तब वो वहाँ एक मंदिर गए थे, वहीं से उन्हे प्रेरणा मिली थी. जकरबर्ग ने भारत दौरे पर अपना काफी समय उत्तराखंड स्थित नीम करोली बाबा के आश्रम में बिताया था. इससे पहले यहाँ एपल के फाउंडर स्टीव जॉब्स भी आए थे.

जकरबर्ग ने बताया कि जॉब्स ने उन्हें भारत के एक मंदिर में जाने की सलाह दी थी. उन्होंने बताया कि, मैं एक महीने तक भारत घूमा और देखा कि लोग किस तरह से एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं. मुझे अहसास हुआ कि अगर सबके पास जुड़ने की क्षमता हो तो दुनिया कितनी बेहतर हो सकती है. इसी सोच से मुझे फेसबुक को आगे बढ़ाने में मदद मिली.

छोटे मंदिर और नीम करोली बाबा के आश्रम के सचिव विनोद जोशी ने बताया कि गूगल की सामाजिक कामों से जुड़ी इकाई से कॉल आया कि कोई मार्क जकरबर्ग एक दिन के लिए आश्रम में आएंगे. उन्होने बताया कि जकरबर्ग सिर्फ एक किताब लेकर यहां आए थे. इतना ही नहीं उन्होंने जो पैंट पहनी हुई थी वह भी घुटने पर फटी हुई है. वे यहाँ एक दिन के लिए आए थे लेकिन आंधी-तूफान के कारण उन्हे यहाँ दो दिन तक रूकना पड़ा. जकरबर्ग और स्टीव जॉब्स के अलावा हॉलीवुड एक्ट्रेस जूलिया रॉबर्ट्स भी यहाँ आ चुकी हैं.