जुकरबर्ग ने प्रोफाईल पिक्चर बदलने पर दी सफाई

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका दौरे के समय फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग द्वारा अपने प्रोफाईल पिक्चर को बदल दिया गया था। मगर इस मामले में एक विवाद गहरा गया था। दरअसल इस प्रोफाईल पिक्चर के साथ ही इसे विस्तारित कर देखने और इससे जुड़े अन्य तकनीकी टर्म्स में एंटर होने के लिए वेबपेज का जो एक्सटेंशन दिया गया था वह इंटरनेट डाॅट ओआरजी से संबंधित था। मगर इसका पब्लिसिटी से कोई संबंध नहीं था। बाद मे इस एक्सटेंशन को करेक्ट कर दिया गया, जिसके बाद इस मसले पर उठा विवाद शांत हो गया।

यह भी कहा गया कि यह केवल एक इंजीनियर की चूक थी। डिजिटल इंडिया अभियान को लेकर उसके द्वारा अपना समर्थन किया गया। यही नहीं जुकरबर्ग ने भारत सरकार के डिजीटल इंडिया कार्यक्रम की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि इस माध्यम से इंटरनेट सेवा देश के ग्रामीण क्षेत्रों तक भी पहुंचेगी। 

दरअसल फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने अपने प्रोफाईल पिक्चर को लेकर अपने फोटो में ही तिरंगे के तीन रंगों को दर्शाया था। यही नहीं यह भी कहा गया था कि यदि फेसबुक यूजर अपने प्रोफाईल को भी इस तरह से बनाना चाहते हैं तो वे भी दी गई लिंक पर क्लिक कर सकते हैं, मगर इस लिंक में डाॅट ओरआजी एक्सटेंशन दिया गया था। बाद में इसे लेकर विवाद छा गया कि इस एक्सटेंशन को प्रमोट करने के लिए ऐसा किया गया। जिस पर जकरबर्ग ने सफाई देते हुए कहा कि इस एक्सटेंशन के प्रचार से इसका कोई संबंध नहीं था। 

यही नहीं जकरबर्ग ने ट्विट किया कि वे अपने प्रोफाईल पिक्चर को बदल चुके हैं। यह डिजिटल इंडिया कैंपेन के पक्ष में हैं। इस माध्यम से भारत सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में इंटरनेट सुविधा और अधिक से अधिक सेवाओं को आॅनलाईन माध्यम से लोगों तक पहुंचाने का प्रयास करेगी। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -