जागी मराठों की शक्ति, राज्यभर में हो रहा आंदोलन का शंखनाद

Sep 24 2016 01:48 PM
जागी मराठों की शक्ति, राज्यभर में हो रहा आंदोलन का शंखनाद

सोलापुर : महाराष्ट्र में इन दिनों मराठों द्वारा विशेष आंदोलन चलाया जा रहा है। महाराष्ट्र के सोलापुर से मराठा नेता और मराठा समाज के सदस्य एक साथ सोलापुर पहुंचे तो करीब साढ़े छः एकड़ का होम ग्राउंड भी कम पड़ गया। दरअसल यहां पर मराठा समाज के सदस्य अपनी मांगों को लेकर एकजुट हुए लेकिन महाराष्ट्र सरकार की खामी ही मानी जा सकती है कि उसे मराठा समाज के इस आंदोलन में उनका कोई नेता ही नज़र नहीं आया। ऐसे में सरकार के सामने सवाल है कि वह किससे चर्चा करे। इस प्रदर्शन का नेतृत्व पांच लड़कियां कर रही थीं जिन्होंने अपनीं मांगे जिलाधीश को सौंपीं।

मराठा आंदोलन के प्रदर्शनकारियों की मांग है कि कोपरडीह गांव में मराठा लड़की के साथ हुए दुष्कर्म के अभियुक्त के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करे और इस मामले की जांच करे। उनकी दूसरी मांग थी कि वे चाहते थे कि मराठों को अति पिछड़े वर्ग ओबीवी में शामिल कर आरक्षण का लाभ दिया जाए। यह उनके लिए नौकरी और शिक्षा में बेहतरी लाने वाला होगा। प्रदर्शनकारियों की मांगों में किसानों का दर्द भी शामिल था।

उन्होंने मांग की कि सरकार किसान आत्महत्या को लेकर गंभीरता दिखाए। अहमदनगर में भी आंदोलन हुआ, जिसमें कांग्रेस के नेता और विधानसभा विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखेपाटील प्रमुखतौर पर शामिल थे। मराठा समाज द्वारा पूरे राज्य में यह आंदोलन सिलसिलेवार तरीके से किया जा रहा है जिसमें नासिक के बाद पुणे और वाशिम में आंदोलन की रूपरेखा तैयार की गई है। है। आंदोलन बुलडाणा, नंदुरबार, सांगली, धुळे, बारामती, सतारा में भी पहुंचेगा।

शिवसेना ने दी NCP प्रमुख शरद पंवार को नसीहत

MNS ने कहा भारत छोड़ो पाकिस्तानी कलाकारों