हिमाचल प्रदेश: सुरंग धसने से 30 मजदूर फंसे

Sep 13 2015 02:33 PM
हिमाचल प्रदेश: सुरंग धसने से 30 मजदूर फंसे

बिलासपुर/मंडी: हिमाचल प्रदेश में निर्माणाधीन एक सुरंग के धसने से उसमे फंसे 30 मजदूरों को फंसे हुए 14 घंटे से अधिक का समय हो गया है लेकिन अब तक उन्हें निकाला नहीं जा सका है। सुरंग को जा रही ऑक्सीजन की पाइप लाइन भी टूट गई है अब एक छोटी पाइप से ऑक्सीजन की व्यवस्था की गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा मनाली-चंडीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग के कीरतपुर से नागचला तक बनाए जा रहे फोरलेन के तहत इस राजमार्ग के कीरतपुर से लेकर नागचला तक के हिस्से में पांच सुरंगों का काम चल रहा है, इनमे से 60 फीसद कार्य तो पूरा हो चुका है, इन सुरंगो के निर्माण से मंडी से चंडीगढ़ तक का सफर महज ढ़ाई घंटे में पूरा हो जाएगा, जो की अभी इसमें छह  घंटे का समय लगता है. 

एक सुरंग पनौल के पास बनाई जा रही है. गौरतलब है की इस सुरंग में शनिवार रात 10 बजे के आसपास सुरंग के बीच के हिस्से में भारी मलबा गिर गया था तथा उस वक्त सुरंग में तीन मजदूर जिनके नाम हिरदा राम व मणी राम निवासी मंडी व सतीश निवासी सिरमौर है उसमे फंस गए थे. व अभी तक वे सुरंग में ही फंसे हुए है. प्रशासन उन्हें निकालने में प्रयासरत है व सुरंग को जा रही ऑक्सीजन की पाइप लाइन भी टूट गई है अब एक छोटी पाइप से ऑक्सीजन की व्यवस्था की गई है. तथा आला अफसर व कर्मचारी पूरी मशीनरी के साथ सुरंग से मलबा हटाने में लगे हुए है. व मौके पर एसपी बिलासपुर बलवीर ठाकुर व घुमारवीं के एसडीएम भी पहुंच गए थे.