कांग्रेस-आप के कई नेता-कार्यकर्ता हुए भाजपा में शामिल, कहा मज़बूरी में लेते थे राहुल गाँधी का नाम

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव की घोषणा होते ही पार्टियां चुनावी तैयारी में लग गईं है तो वहीं नेताओं का पाला बदलने का दौर भी शुरू हो गया है. दिल्ली में सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी (आप) के साथ ही कांग्रेस और योगेंद्र यादव की सियासी पार्टी स्वराज इंडिया के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम लिया है.

सोमवार को राहुल से की हुड्डा ने मुलाकात, आज फिर हो सकती है चर्चा

भाजपा में शामिल होने वाले इन सभी नेताओं ने एक सुर में पीएम नरेंद्र मोदी को एक बार फिर से पीएम बनाने का दृढ़ संकल्प लिया है. दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इन नेताओं और कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल किया है. भाजपा में शामिल हुए आप के युवा नेता और पूर्व डूसू प्रेसिडेंट जितेंद्र चौधरी ने आप और उसके अध्यक्ष अरविंद केजरीवाल के विरुद्ध अपनी भड़ास निकाली और कहा है कि केजरीवाल के कारण ही अब पार्टी में इतने भी लोग नहीं बचे हैं जितने किसी छोटे से आतंकी संगठन में हुआ करते हैं.

कैप्टन और मनमोहन सिंह की हुई मुलाकात, कई मुद्दों पर हुई चर्चा

वहीं कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने वाले आयुष चौधरी ने कहा है कि उन्हें कांग्रेस में घुटन महसूस होती थी. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा है कि हमें ऐसे नेता का नाम लेना पड़ता था जिससे हमारा मनोबल ही टूट जाता था. पार्टी में शामिल अधिकांश युवा नेता राहुल गाँधी नाम नहीं लेना चाहते, लेकिन विवशता में उन्हें लेना पड़ता है.

खबरें और भी:-

आतंकी का सम्मान करके बुरे फंसे राहुल गाँधी, भाजपा नेताओं ने लगाई क्लास

भाजपा के समर्पण निधि अभियान में सीएम योगी ने भी दिया योगदान

आज दोपहर तक जारी होगी टीएमसी की पहली सूची

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -