विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह सवालों के घेरे में...

Sep 21 2015 03:16 PM
विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह सवालों के घेरे में...

नई दिल्ली : हाल ही में एक प्रमुख समाचार पत्र द्वारा इस बात का खुलासा किया गया कि भारतीय थल सेना के प्रमुख रहे और विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह के कार्यकाल में कई तरह की फाईलें नष्ट कर दी गई थीं। हालांकि स्पष्टतौर पर अभी इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि ये फाईलें किस प्रकरण से संबंधित थीं। मगर यह बात सामने आ रही है कि दस्तावेजों में अधिकांश दस्तावेज खुफिया आॅपरेशन से जुड़े थे। यह भी कहा गया कि टेक्निकल सर्विस विभाग के प्रति माह के खर्च का विवरण और बैंक विवरण भी इन दस्तावेजों में शामिल था। अब इस मसले पर काफी सवाल उठाए जा रहे हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार यह बात सामने आ रही है कि वर्तमान विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह जब थल सेना अध्यक्ष थे तो इसी दौरान महत्वपूर्ण फाईलों को लेकर अनियमितताऐं बरती गईं। इन फाईलों को जला दिया गया। अब यह बात सामने आई है कि डिवीजन के अधिकारी कर्नल सर्वेश ढडवाल से संबंधित फाईलें भी नदारद हो गईं। बाद में टेक्निलक सर्विस डिविजन को समाप्त कर दिया गया।

हालांकि जनरल वीके सिंह ने अपनी ओर से कहा कि वर्ष 2012 में ही उन्होंने पूरी जानकारी संवाददाता को दे दी थी। मगर अखबार ने पूरी जानकारी नहीं छापी। दरअसल टेक्निलक सर्विस डिवीजन जनरल वीके सिंह ने बनाई थी। इसलिए इस बारे में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं।