रामलीला में अंगद बने मनोज तिवारी, बोले- जिसने रामायण समझ ली वह भाजपा ही ज्वाइन करेगा

रामलीला में अंगद बने मनोज तिवारी, बोले- जिसने रामायण समझ ली वह भाजपा ही ज्वाइन करेगा

अयोध्या: रामनगरी अयोध्या की रामलीला में अंगद की भूमिका निभाने पहुंचे मनोज तिवारी ने कई मसलों पर खुलकर चर्चा की. इस दौरान उन्होंने ये भी बताया कि आने वाले दिनों में कैसे सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मुद्दा भी बिहार चुनाव में उठेगा. बता दें कि अंगद के रूप में मनोज तिवारी ने शानदार अभिनय किया. रावण और अंगद संवाद अयोध्या की रामलीला का सबसे शडनर सीन रहा. जिसने लोगों को मंत्र मुग्ध कर दिया.

मनोज तिवारी ने स्टेज पर जाने के पहले अंगद के कई डायलॉग सुनाए और अंगद- रावण संवाद को आज के समय की उपयोगिता बताते हुए इससे सीख लेने की सलाह दी. मनोज तिवारी ने कहा कि रामलीला की संस्कृति को बचाना अत्यंत आवश्यक है. रामलीला का संरक्षण बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा कि देश में एक समय लोग साक्षर नहीं थे, उस समय घर-घर तक इसी तरीके से रामायण पहुंची. उन्होंने कहा कि आज राम जी घर-घर में हैं, सीता जी की मर्यादा हर घर में है. रावण के अंहकार से भी हर कोई सतर्क है. ऐसे में रामलीला का जितना प्रचार- प्रसार हो सके किया जाना चाहिए.

मनोज तिवारी ने कहा कि जिसने रामायण को अच्छे से पढ़ लिया और जीवन में उतार लिया, तो वह फिर चाहे समाज सेवा में हो, सियासत में हो या जहां भी हो, वह भाजपा में ही शामिल होगा. उन्होंने कहा कि जब लोग राम की मर्यादा समझेंगे तो फिर उन्हें भाजपा से बेहतर कोई पार्टी नहीं लगेगी और ऐसा शख्स निश्चित ही मोदी जी के साथ आना चाहेगा.

जानिए क्या है वर्ल्ड पोलियों दिवस का महत्त्व

क्या भारत में यूपी-बिहार तक कब्ज़ा कर चुकी है 'चीनी सेना' ? राहुल गांधी का दावा निकला झूठा

'तिरंगा नहीं उठाने' के महबूबा के बयान पर सियासत गर्म, FIR दर्ज करने की मांग