कभी आत्महत्या करना चाहते थे मनोज बाजपेयी, आज हैं सुपरस्टार

बॉलीवुड में अपने दमदार अभिनय से सभी का दिल जीतने वाले मनोज बाजपेयी का आज जन्मदिन है। मनोज बाजपेयी ने अपने करियर में कई सुपरहिट फ़िल्में दी हैं जो आपने देखी ही होंगी। मनोज बाजपेयी एक ऐसे अभिनेता है जिन्होंने अपने करियर में कई उतार-चढ़ाव देखे हैं लेकिन कभी हार नहीं मानी। मनोज ने अपने करियर में कई दमदार किरदार निभाए जो आपने देखी ही होंगे। वैसे आज मनोज का जन्मदिन है तो हम आपको उनके बारे में कुछ ऐसे तथ्य बताने जा रहे हैं जो चौकाने वाले हैं। आप सभी को बता दें कि मनोज बाजपेयी का जन्म बिहार के चंपारण के पास के एक छोटे से गांव में हुआ था।

वह एक किसान परिवार में जन्मे, जहाँ उनके पिता किसानी करते थे और मां घर संभालती थी। मनोज पांच भाई- बहनों में दूसरे नंबर पर हैं। जिस समय मनोज एनएसडी के बाद दिल्ली में काम के लिए लगातार स्ट्रगल कर रहे थे, उस दौरान वह अपनी बहन को दो रुपये का सिक्का देकर बस में बैठा देते थे और खुद पैदल अपने थिएटर ग्रुप तक जाते थे। मनोज खुद बता चुके हैं कि उन्हें एनएसडी ने चार बार रिजेक्ट किया था और इसके बाद वह आत्महत्या करने के बारे में सोचने लगे थे। हालाँकि दोस्तों के समझाने के बाद वह नुक्कड़-नाटक में एक्टिंग करने लगे।

वहीं नुक्कड़ नाटकों के साथ उन्होंने थिएटर भी करना शुरू कर दिया। अंत में उन्होने एक मिनट की फिल्म ‘द्रोहकाल'(1994) से बतौर एक्टर डेब्यू किया और उसके बाद उन्होंने बैंडिट क्वीन से बॉलीवुड में करियर शुरू किया। उसके बाद उनके पास फ़िल्में आती गईं। आप सभी ने उन्हें सत्या, शूल, जुबैदा, पिंजर, अलीगढ़ ऐसी ही कई जबरदस्त फिल्मों में देखा होगा। शार्ट फिल्मों में काम कर मनोज ने खूब नाम कमाया और अब वह वेब सीरीज में काम कर लोगों के दिलों में बस चुके हैं। फिलहाल उन्हें हमारी तरफ से जन्मदिन की शुभकामानाएं।

निधन हुआ सीताराम येचुरी के बेटे का, प्रियंका ने 'सीताराम केसरी' को दे डाली श्रद्धांजलि

सीएम केजरीवाल ने केंद्र को कहा शुक्रिया, बोले- ऑक्सीजन के मामले में हमारी बहुत मदद की...

कोरोना से हो रहीं मौतों पर बोलीं पूजा भट्ट- 'पॉलिटिकल क्लास के हाथ खून से रंगे हुए हैं'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -