वन रैंक वन पेंशन पर जल्द ही छोटे मुद्दों को भी सुलझा लिया जाएगा -पर्रिकर

Sep 07 2015 10:04 PM
वन रैंक वन पेंशन पर जल्द ही छोटे मुद्दों को भी सुलझा लिया जाएगा -पर्रिकर

बेंगलुरू। भारतीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा की वन रैंक वन पेंशन पर सरकार ने ओआरओपी को सैद्धांतिक रूप से स्वीकार कर लिया है व समय के साथ साथ इस स्कीम से जुड़े हुए कुछ छोटे मुद्दे भी जल्द ही अपने आप सुधर जाएंगे. पर्रिकर ने कहा की आपने कभी किसी मांग को सौ फीसदी पूरा होते देखा है जो की सभी को संतुष्ट कर सके. पर्रिकर ने कहा की इस मुद्दे पर बहुत से जटिलतम मुद्दो का समाधान हो गया है व कुछ छोटे मुद्दे शायद रह गए हैं, वे समय रहते अपने आप सुलझ जाएंगे. पर्रिकर ने कहा की भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ओआरओपी की घोषणा की जा चुकी है तथा इससे समय से पूर्व स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने वाले जवानों को भी इसका लाभ मिलेगा. 

व इसके लिए भूख हड़ताल पर बैठे पूर्व सैनिकों ने भी अपनी हड़ताल वापस ले ली है. तथा इस हड़ताल के बाद इसकी एसोसिएशन के नेता मेजर जनरल (रिटायर्ड) सतबीर सिंह ने कहा है की हमारा यह विरोध प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा जब तक की सरकार हमारे द्वारा उठाए गए चार मुद्दो का समाधान नही करती जिसमे से एक मुद्दा पेंशन की हर दो साल में समीक्षा करना है जिसे सरकार ने हर पांच साल में करने का ऐलान किया है।