नौसेना अधिकारी छेड़खानी मामले में पर्रिकर का कड़ा रुख

चेन्नई : नौसेना के एक सीनियर ऑफिसर पर छेड़खानी का आरोप लगने के बाद उन्हें जबरन अवकाश पर भेजा गया है। इसी बीच रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि राजग सरकार ऐसे मामलों के प्रति बेहद संवेदनशील है। साथ ही पर्रिकर ने इस मामले में दोषी पाए जाने पर अधिकारी पर कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

अधिकरारी को छुट्टी पर भेजे जाने का जिक्र करते हुए पर्रिकर ने कहा कि इस मामले का मीडिया में आने से पहले ही इस पर कार्रवाई की गई है। पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में रक्षा मंत्री ने कहा कि यह सरकार संवेदनशील है। यहां तक कि उत्पीड़न के मामले में भी, जो कि एक अस्पष्ट मामला है। मेरे आदेश बेहद साफ है। मैं उन्हें बर्दाश्त नहीं करुंगा।

पर्रिकर ने कहा कि चाहे रक्षा प्रतिष्ठान हो या अन्य कोई जगह, महिलाओं को कार्यस्थल पर सुरक्षित और आरामदेह महसूस करना चाहिए तथा उन्होंने चेतावनी दी कि ऐसे मुद्दों पर आरोपी व्यक्तियों पर हम कड़ी कार्रवाई करेंगे। हाल ही में एक महिला लेफ्टिनेंट ने शिकायत की थी कि उनके वरिष्ठ सर्जन कमांडर ने दो बार उनसे छेड़खानी की।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -