मनोहर पर्रिकर: यह मोदी सरकार का बेहतरीन निर्णय है

Apr 11 2015 08:19 PM
मनोहर पर्रिकर: यह मोदी सरकार का बेहतरीन निर्णय है
नई दिल्ली : रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर फ्रांस के साथ हुए सौदे को लेकर बेहद खुश हैं। पर्रिकर ने इस सौदे को बहुत ही लाभदायक बताया हैं। दरअसल रक्षा मंत्री पर्रिकर फ्रांस के साथ हुए राफेल लड़ाकू विमान के सौदे को लेकर बहुत खुश हैं। उन्होंने कहा की ये मोदी सरकार का बेहतरीन निर्णय है और यह भी कहा कि ये सौदा बेहतर शर्तों पर हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को फ्रांस के साथ 36 तैयार राफेल विमानों के सौदे पर हस्ताक्षर किए हैं। 

रक्षा मंत्री पर्रिकर का कहना है की भारत ने आखिरकार सौदे को लेकर सफलता हासिल कर ली, जो पिछले कई सालों से लंबित थी। उन्होंने कहा कि राफेल जेट को लगभग दो साल की अवधि में भारतीय वायुसेना में शामिल कर लिया जाएगा। रक्षा मंत्री ने बताया की इसमें दो साल लगेंगे क्युंकि विमान को लेकर बातचीत उसकी कीमत और देसाल्त एविएशन की ओर से सरकारी स्वामित्व वाले हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा बनाए जाने वाले 108 विमानों के लिए गारंटी देने में हिचकिचाहट के कारण फंसी हुई थी। पर्रिकर का कहना है की भारतीय वायुसेना को इस सौदे से न्यूनतम राहत मिलेगी। हकीकत में पिछले 17 सालों में नई पीढ़ी का कोई बड़ा विमान नहीं खरीदा है। दो स्क्वाड्रन के लिए 36 विमान खरीदना एक अत्यंत सकारात्मक निर्णय है जिसकी जरूरत थी। 

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी इस वक़्त तीन देशों की यात्रा पर है. प्रधान मंत्री मोदी ने अपने फ्रांस दौरे में शुक्रवार को पेरिस में कहा की भारत देश में लड़ाकू विमानों की महत्वपूर्ण परिचालन जरूरतों को ध्यान में रखते हुए फ्रांस से जल्द ही 36 राफेल लड़ाकू विमान उड़ान भरने के लिए तैयार अवस्था में खरीदेगा। पर्रिकर ने यह भी कहा, ‘इन विमानों की खरीद के लिए अनुरोध पत्र कई वर्षों से अटका हुआ था। इसकी शुरूआत 2000 में हुई थी और काफी उलझनों के चलते यह पूरा नहीं हो पा रहा था, इसलिए मैं काफी प्रसन्न हूं कि प्रधानमंत्री ने यह पहल की है।’