खट्टर पहुंचे शहीद गुरसेवक के घर, एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा

Jan 05 2016 05:42 PM
खट्टर पहुंचे शहीद गुरसेवक के घर, एक सदस्य को नौकरी देने की घोषणा

हरियाणा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पठानकोट के एयरबेस स्टेशन पर हुए आतंकी हमले के शहीद गरूड़ कमांडो गुरसेवक सिंह के परिजन से भेंट की। वे शोक प्रकट करने के लिए गुरसेवक के पैतृक गांव गरनाला पहुंचे। इस दौरान उन्होंने शोक संतप्त परिवार को लेकर अपनी संवेदना व्यक्त की। मुख्यमंत्री ने गुरसेवक के पिता सुच्चा सिंह को आश्वासन दिया और कहा कि सरकार परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी। उनके द्वारा यह भी कहा गया कि गुरसेवक का स्मारक भी बनवाया जाएगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि हरियाणा और पूरे देश को 25 वर्षीय गुरसेवक के सर्वोच्च बलिदान पर फक्र है। उनका कहना था कि गुरसेवक ऐसे परिवार से आते थे। जो रक्षा बलों में योगदान देने के लिए जाना जाता है। उनके बड़े भाई हरदीप सिंह सेना में हैं तो पिता सुच्चा सिंह पूर्व सैनिक हैं। खट्टर ने गुरसेवक के पिता को आश्वस्त किया और कहा कि इस दुख की घड़ी में सारा देश उनके साथ है।

पठानकोट में हुए आतंकी हमले को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भारत शांति को अधिक महत्व देता है। हालांकि शांति की पहल किए जाने के विरूद्ध भी कुछ तत्व हैं। वे उनके द्वारा की जाने वाली शांति की पहल के विरूद्ध हैं। इस तरह के तत्व ही परेशानियां पैदा कर रहे हैं।

पठानकोट की घटना को ध्यान में रखते हुए पाकिस्तान के साथ की जाने वाली चर्चा बंद कर देना चाहिए। इस पर खट्टर ने कहा कि यह निर्णय केंद्र सरकार को करना है। पठानकोट की घटना को नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता है।